जियो में हुआ आठवां बड़ा निवेश, अबूधावी इंवेस्टमेंट अथॉरिटी ने खरीदी 1.16 प्रतिशत हिस्सेदारी

रिलायंस जियो में रविवार को आठवीं विदेशी कंपनी ने निवेश किया है। इस बार जियो में अबूधावी इंवेस्टमेंट अथॉरिटी (एडीआईए) ने 5,683.50 करोड़ रुपए के निवेश का एलान किया है। इसी के साथ एडीआईए की जियो में 1.16 प्रतिशत की हिस्सेदारी होगी। एडीआईए ने जियो की इक्विटी वैल्यू 4.91 लाख करोड़ रुपए आंकी है। पिछले 47 दिनों में जियो में यह आठवां बड़ा निवेश है। अब तक 21.06% इक्विटी के लिए कुल 97,885.65 करोड़ निवेश हो चुका है।

जियो प्लेटफार्म में निवेश का सिलसिला 22 अप्रैल को फेसबुक से शुरू हुआ था। उसके बाद सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी, जनरल अटलांटिक, केकेआर, मुबाडला ने अतिरिक्त निवेश किया था। एडीआईए के निवेश एलान के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह निवेश हमारी रणनीति और भारत की क्षमता पर एडीआईए के भरोसे को जाहिर करता है।

एडीआईए में प्राइवेट इक्विटी विभाग के कार्यकारी निदेशक हमाद शाहवान अल्दहेरी ने कहा कि जियो प्लेटफॉर्म्स भारत की डिजिटल क्रांति में सबसे आगे है। जियो में हमारा निवेश एडीआईए के बाजार की अग्रणी कंपनियों में निवेश करने की हमारी गहरी समझ और विशेषज्ञता को दिखाता है।

यह भी पढ़े: कोरोना संक्रमण के मामले में चीन से भी आगे निकला महाराष्ट्र, 24 घंटे में 3 हजार से भी ज्यादा केस
यह भी पढ़े: Dahi Bhalla Recipe: इस आसान विधि से घर पर ही बनाये बाजार जैसे चटपटे दही भल्ले