एक साथ दिखाई दिए चाचा-भतीजे, साथ बैठे लेकिन…

आपसी तल्खी के ताजा दौर के बीच समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव और उनके चाचा सपा विधायक शिवपाल सिंह यादव लखनऊ में आयोजित एक विवाह समारोह में एक साथ नजर आए. अखिलेश यादव ने मंगलवार को उनके साथ अपनी एक फोटो भी ट्वीट की.

सपा के टिकट पर पिछला विधानसभा चुनाव जीतने के बावजूद पार्टी विधायकों की बैठक में नहीं बुलाए जाने से नाराज प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के अध्यक्ष शिवपाल यादव और सपा प्रमुख अखिलेश यादव के बीच दूरियां एक बार फिर जगजाहिर हो गई हैं.

हालांकि इसी बीच सपा अध्यक्ष ने मंगलवार सुबह एक ट्वीट में प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक जगमोहन यादव की भतीजी के विवाह समारोह की तस्वीरें साझा की हैं. इनमें एक ऐसी तस्वीर भी शामिल है जिसमें वह अपने चाचा के बगल में बैठे हैं.

प्रसपा के मुख्य प्रवक्ता दीपक मिश्रा ने मंगलवार को बताया कि शिवपाल यादव और अखिलेश यादव सोमवार रात लखनऊ में आयोजित पूर्व पुलिस महानिदेशक की भतीजी अमृता की शादी समारोह में शामिल हुए थे. दोनों के बीच सामान्य शिष्टाचार के तहत नमस्कार का आदान-प्रदान तो हुआ, मगर उसके बाद दोनों के बीच और कोई बात नहीं हुई.

उन्होंने बताया कि अखिलेश यादव जिस सोफे पर बैठे थे उसके ठीक बगल वाले सोफे पर शिवपाल यादव बैठे थे. सपा अध्यक्ष ने यह तस्वीर भी ट्वीट के साथ साझा की है.

गौरतलब है कि शिवपाल यादव ने प्रसपा का अध्यक्ष होने के बावजूद प्रदेश का पिछला विधानसभा चुनाव जसवंत नगर सीट से सपा के ही टिकट पर जीता था. लेकिन बाद में चाचा-भतीजे के बीच तल्ख़ियां इतनी बढ़ गई थीं कि शिवपाल यादव के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की अटकलें लगाई जाने लगी थीं. इस बारे में पूछे जाने पर शिवपाल यादव ने अपनी रणनीति का खुलासा नहीं किया. उनका कहना है कि सही वक्त आने पर सारी बात बता दी जाएगी.