कही आपके शरीर पर भी तो नहीं हैं नीले निशान

किसी के शरीर पर पड़े अनचाहे नीले निशान हेल्थ के लिए बहुत ही बड़ी परेशानी का कारण बन सकते हैं। नीले निशान बढ़ती उम्र, पोषण की कमी, हेमोफिलिया और कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का लक्षण भी हो सकते हैं।

कई लोग शरीर पर पड़े नीले निशान तो अंधविश्वास के नजरिये से भी हम देखतें हैं कि उनको कहीं किसी की बुरी नजर तो नहीं लगी। लेकिन ऐसा नहीं है। आज हम आपको बताएंगे कि अगर आपको शरीर पर कहीं भी ऐसे निशान दिख जाएं तो समझ जाइए कि आपको इन कारणों में से कोई एक कि दिक्कत हैं।

कीमोथेरेपी के कारण
कैंसर के उपचार के दौरान कीमोथेरेपी के कारण भी शरीर पर नीले निशान दिखाई देने लगते है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कीमोथेरेपी के कारण रोगी का ब्लड प्लेटलेट्स बहुत नीचे आ जाता है और इससे शरीर में नील के निशान दिखाई देने लगते हैं।

पोषक तत्वों की कमी
खून के थक्कों और जख्मों को भरने में कुछ विटामिन और मिनरल की अहम भूमिका होती हैं । भोजन में विटामिन K, C और मिनरल की कमी से शरीर पर नीले निशान दिखाई देने लगते हैं। विटामिन K खून को जमने में मदद करता है।

बढ़ती उम्र भी वजह
बुजुर्ग लोगों के हाथ या पैर पर नीले निशान पड़ना बहुत ही सामान्य है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि नसें कमजोर हो जाती हैं। ये निशान लाल रंग से शुरू होकर, हल्के बैंगनी और गहरे रंग के होते हुए फिर हल्के होकर गायब हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें:

क्या मैस्टरबेशन या सम्बन्ध बनाने के दौरान स्पर्म निकलने से शरीर की इम्युुनिटी पर असर पड़ता है? जानिए सही जवाब

 पाचन संबंधी हर समस्या होगी छूमंतर, अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके

Loading...