आई ड्रॉप का इस्तेमाल, आँखों के लिए हो सकता है नुकसानदायक !

कई सारे लोग आई ड्रॉप का उपयोग करते हैं। इसका उपयोग आमतौर पर लोग आंखों में सूखेपन की गंभीर समस्या और धूल या तेज हवा से आंखों में होने वाली जलन से पूर्ण्तः आराम पाने के लिए करते हैं। लेकिन अगर आप भी आई ड्रॉप का उपयोग करते हैं तो एक बार यह अवश्य पढ़ लीजिए। ये आई ड्रॉप आपके आंखों के लिए अत्यधिक नुकसानदायक हो सकते हैं। आई ड्रॉप के इस्तेमाल से आप ग्लूकोमा यानी काला मोतिया के शिकार हो सकते हैं। सबसे बड़ी हैरानी की बात तो यह है कि ग्लूकोमा के तकरीबन 15 प्रतिशत मरीजों के पीड़ित होने का कारण आई ड्रॉप का साइड इफेक्ट है।

– आपको बता दे की ग्लूकोमा एक अनुवांशिक बीमारी है। ऐसे में बच्चे की आंखों की जांच करवा लेना चाहिए। आंखों की एलर्जी, अस्थमा, चर्म रोग या किसी अन्य रोग के लिए स्टेरॉयड दवाओं का प्रयोग करने से आंखों में गंभीर दिक्कत आती है तो ऐसी दवाइयों के सेवन से बचें।

– आंखों में दर्द हो या आंखें लाल हो जाएं तो डॉक्टर से सलाह लेकर ही दवा का उपयोग करें।

– खेलने के दौरान अगर आंखों में चोट लग जाए तो इसका इलाज अवश्य कराएं।

– हर दो साल में आंखों की नियमित जांच करवाते रहिए। चेकअप करवाने से आंखों की रोशनी का पता लगाया जा सकता है।

– अगर आपके चश्मे का नंबर बदल रहा है तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क कीजिए।

– जब आप सीधे देख रहे हों तो आंखों के किनारे से न दिखाई दे रहा हो तब जांच अवश्य करवाएं।