किसान संगठनों ने तेज किया अपना आंदोलन, भूख हड़ताल पर बैठे

कृषि कानूनों के खिलाफ  किसान संगठनों ने अपने आंदोलन को और तेज कर दिया है। सरकार पर दबाव बढ़ाने के लिए किसान सुबह आठ बजे से भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। ये हड़ताल शाम पांच बजे तक रहेगा।

किसानों के समर्थन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी उपवास की बात कही है। ट्वीटर पर उन्होंने लिखा, “उपवास पवित्र होता है। आप जहां हैं, वहीं हमारे किसान भाइयों के लिए उपवास कीजिए। प्रभु से उनके संघर्ष की सफलता की प्रार्थना कीजिए। अंत में किसानों की अवश्य जीत होगी।”

केंद्र सरकार नए कृषि संबंधी कानूनों में संशोधन की बात कह रही है। वहीं, किसान संगठन इसे रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं।

नए कानून के खिलाफ देश के अलग-अलग हिस्सों में किसानों ने भूख हड़ताल शुरू कर दिया है। राजस्थान, उत्तर प्रदेश, राजधानी दिल्ली, हरियाणा समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में किसान भूख हड़ताल पर बैठे हुए हैं।

दिल्ली में भी सिंघु, टिकरी, गाजीपुर सीमा पर किसानों का धरना प्रदर्शन जारी है। वहीं, किसानों ने कई हाइवे को जाम कर दिया है।