J&K को पुरानी पहचान दिलाने को फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मु्फ्ती का गठबंधन

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने गुपकार बैठक के बाद महबूबा मुफ्ती की पार्टी के साथ गठबंधन की घोषणा की हैं। इस दौरान उन्होंने कहा जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को पुराने सभी अधिकार वापस दिए जाने के लिए उनका संघर्ष जारी रहेगा। इस गठबंधन को ‘पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन’ नाम दिया गया हैं। अब्दुल्ला ने कहा हमारी मांग हैं कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को वो सारे अधिकार दिए जाएं जो हमसे छीने गए हैं।

उन्होंने कहा, भारत सरकार राज्य के लोगों के उन अधिकारों को लौटाए जो उन्हें 5 अगस्त 2019 से पहले मिलते थे। पूर्व सीएम ने कहा कुछ दिनों बाद हम फिर मिलकर भविष्य में उठाये जाने वाले कदमों पर विचार कर उन्हें सामने लाएंगे। बता दे बैठक में नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती भी मौजूद रही। यह बैठक फारूक अब्दुल्ला ने भविष्य की कार्रवाई का खाका तैयार करने के लिए अपने आवास पर बैठक बुलाई थी।

बता दे ‘गुपकार घोषणा’ नेशनल कॉन्फ्रेंस अध्यक्ष के गुपकार स्थित आवास पर चार अगस्त, 2019 को हुई एक सर्वदलीय बैठक के बाद जारी प्रस्ताव है। जिसमें सभी पार्टियों ने सर्व-सम्मति से फैसला किया कि जम्मू कश्मीर की पहचान, स्वायत्तता और विशेष दर्जे को संरक्षित करने के लिए वे मिलकर प्रयास करेंगी।

यह भी पढ़े: सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई को हार्ट अटैक, पटना अस्पताल में एडमिट
यह भी पढ़े: PAK की जेल में बंद चार भारतीयों को छुड़ाने इस्लामबाद हाई कोर्ट पहुंचा भारत

Loading...