मधुमेह रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है कलौंजी

कलौंजी, जिसे लोग काले बीज या काला जीरा कहकर भी बुलाते हैं, इसका इस्तेमाल कई तरह के व्यंजनों में किया जाता है। जहां यह व्यंजन के स्वाद को कई गुना बढ़ा देता है, वहीं दूसरी ओर इसमें कई तरह के पोषक तत्व जैसे पोटेशियम, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन, खनिज, वसा, अमीनो एसिड, एंटीऑक्सिडेंट आदि पाए जाते हैं। यंू तो कलौंजी के कई लाभ हैं, लेकिन मधुमेह पीड़ित व्यक्तियों के लिए इसे विशेष रूप से उपयोगी माना जाता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

एक रिसर्च में पता लगा है कि कलौंजी ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मददगार हैं। इसलिए मधुमेह पीड़ित व्यक्ति को कलौंजी या कलौंजी के तेल को डाइट में अवश्य शामिल करना चाहिए।

जब व्यक्ति का ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है तो इससे शरीर में सूजन होती है। यही कारण है कि डायबिटीज से पीड़ित लोगों में सूजन की मात्रा ज्यादा होती है। लेकिन रोज की डाइट में कलौंजी तेल या कलौंजी को शामिल करने से शरीर में सूजन और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम किया जा सकता हैं।

कलौंजी में पोटेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिससे डायबिटीज रोगियों को अद्भुत फायदे मिल सकते हैं। इसके अलावा यह आयरन और इम्युनिटी बढ़ाने वाले विटामिन सी में भी काफी रीच है जो डायबिटीज रोगियों के सेहत की सुधार के लिए जरुरी हैं, इसलिए डायबिटीज के मरीजों को अपने डेली डाइट में कलौंजी या इसके तेल को शामिल करके इसका फायदा लेना चाहिए।