Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / आपकी भी अंगुलियों में आती है सलवटें, घबरायें नहीं ध्यान दे इन उपायों पर

आपकी भी अंगुलियों में आती है सलवटें, घबरायें नहीं ध्यान दे इन उपायों पर

हमनें देखा हैं कई बार पानी में हाथ पैर की उँगलियाँ अधिक डालने से उनके ऊपर सलवटे पड़ने लगती हैं. यह ज्यादातर बारिश के मौसम में होता हैं. हम यही सोचते हैं की यह कुछ ही देर में गायब हो जाएँगी। लेकिन आज हम आपको इसके पीछे की वजह बताएंगे की आखिर ऐसा क्यों होता हैं.

रिसर्च में वैज्ञानिकों ने पता लगाया की हमारी त्वचा के भीतर एक स्वतंत्र तंत्रिका तंत्र काम करता हैं जो देर तक त्वचा के पानी के संपर्क में रहने पर नसों को सिकोड़ देता है जिससे त्वचा पर सिलवटें पड़ जाती हैं। यही स्वतंत्र तंत्रिका तंत्र ही सांस, धडक़न और पसीने को भी नियंत्रित करता है। ऐसा ही पैरों में भी होता है। भीगे पैरों के तलवे भी लहरदार से हो जाते हैं। यह जिंदा रहने के लिए हमारे शरीर का जबरदस्त इंतजाम हैं और इनसें हमारें शरीर में होने वाली कई बीमारियों को रोकता भी है। साथ ही हमारें शरीर का ख्याल भी रखता है।

Loading...

वैज्ञानिकों के अनुसार माना जाता था कि हाथों के काफी देर तक गीले रहने से त्वचा के अंदर से पानी निकलने लगता है जिससे नमी की कमी हो जाती है और अंगुलियों के सिरों में सिलवटें आ जाती हैं पर, ऐसा नहीं है इस रिसर्च में साबित हुआ है कि सिलवटें हाथ व पैरों की पकड़ मजबूत रखती हैं। हाथ या पैर में पानी के कारण पडऩे वाली सिलवटें गीली परिस्थितियों में बेहतर ग्रिप देती हैं।

पुराने समय में जाएं तो हाथों की अंगुलियों की इन्हीं झुर्रियों ने शायद पानी और गीले इलाकों में खाना खोजने में हमारी मदद की थी और पानी के कारण पैरों पर बनी झुर्रियों की वजह से ही शायद हमारे पुरखे बारिश में भी आसानी से चल फिर सके।इस तरह बहुत से कारण होते है हांथों और पैरों की अगुंलियों में पडऩें वालें सलवटें को। और अगर आप ऐसा करेंगे तो कोई खास बात नहीं है।अगर आपकें भी हांथों और पैरो में यें होता है तो घबरायें नहीं यें मामूली सी बात हैं धीरे-धीरे ये ठीक हो जाएगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *