कश्मीर में रखी जा रही है बाढ़ की स्थिति पर निगरानी

केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में कश्मीर घाटी में कुछ दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश से नदियां एवं छोटे नालों में ऊफान आने से बाढ़ की स्थिति बन गई है तथा कुछ क्षेत्रों में सड़के भी बह गई। प्रशासन ने लोगों को किसी भी हादसे से बचने के लिए घरों से बाहर नहीं आने की सलाह दी है।

कृषि एवं बाढ़ नियंत्रण के मुख्य इंजीनियर नरेश कुमार ने कहा कि घाटी में पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है और खतरे के निशान पर है। प्रशासन स्थिति पर लगातार निगरानी रखे हुए है।

उन्होंने कहा कि लगातार बारिश से जलस्तर बढ़ गया है लेकिन अभी तक स्थिति नियंत्रण में है और दक्षिण कश्मीर के संगम में झेलम नदी खतरे के निशान के करीब पहुंच गया है। झेलम नदी में जलस्तर खतरे के निशन 25 फुट के मुकाबले 21 फुट तक पहुंच चुका है। बरसात हालांकि थम गई है। मौसम विभाग के अनुमान के आगे मौसम में सुधार आयेगा। कुमार ने मीडिया से कहा कि विभाग स्थिति पर पूरी तरह से नजरें रखे हुए है।

यह भी पढ़े: नवीन ने ओड़िशा के सभी विधायकों से द्रोपदी को समर्थन देने की अपील की