अपनाये ये आसान घरेलू उपाय भांग का नशा उतारने के लिए

कहा जाता है की भांग का नशा सबसे बुरा नशा होता है। लोग इसे भगवान शिव का प्रसाद बोलते है। और भोले का नाम लेकर भांग के गिलास पर गिलास लगातार पीते चले जाते हैं। लेकिन उन लोगों को इस बात का जरा भी अंदाजा नहीं होता कि भांग से अपने शरीर को कितना अधिक नुकसान हो रहा है। भांग पीने से भांग के कण दिमाग की उन नसों पर पूर्ण्तः अटैक करते हैं जिन नशों से हमारी हंसी, खुशी, दुख, उदासी, इत्यादि से जुड़े होते हैं। इसलिए कुछ लोग भांग का सेवन करने के बाद या तो बहुत अधिक रोते हैं या फिर बहुत अधिक हंसते हैं।

लोग ऐसा सोचते हैं कि भांग का नशा उतरने के बाद उसका असर पूर्ण्तः खत्म हो जाता है, बल्कि भांग का असर बहुत लंबे समय तक व्यक्ति के दिमाग को परेशान करता है और शायद महसूस ना हो लेकिन दिमागी रूप से वह व्यक्ति परेशान ही रहता है। भांग का नशा गर्भवती महिला के लिए बहुत ही अधिक हानिकारक होता है। गर्भवती महिलाओं को तो गलती से भी भांग का सेवन नहीं करना चाहिए। दोस्तों भांग का नशा बहुत जल्दी नहीं उतरता है लेकिन भांग का नशा उतारने के लिए आप घरेलु उपाय करके भांग का नशा अवश्य उतार सकते हो।

भांग का नशा उतारने के घरेलु उपाय

भांग का नशा उतारने के लिए खट्टे का सेवन करना सबसे बेहतरीन उपाय है। खट्टे खिलाने के लिए आप नींबू, छाछ, दही या फिर इमली का पानी बनाकर उसका सेवन कर सकते हैं। बेशक इन तरीकों से भांग का नशा उतर जाएगा।

भांग का नशा उतारने के लिए आप सरसों के तेल का भी उपयोग कर सकतें है। सरसों का तेल हल्का गुनगुना करके व्यक्ति के कान में एक-दो बूंद डाल दें। इससे भांग के नशे में चूर व्यक्ति बेहोश नहीं होगा।

भांग का नशा उतारने के लिए कई लोग शुद्ध देशी घी के सेवन से भांग के नशे का इलाज कर सकते हैं।

भांग का नशा उतारने के लिए अरहर की कच्ची दाल को पीसकर पानी के साथ संबंधित व्यक्ति को दें या फिर इसे पानी से साथ पीसकर पिलाएं।

भुने हुए चने और संतरे का सेवन भांग का नशा कम करने का एक बढ़िया उपाय है। इसके अलावा बिना चीनी का या नमक डाला हुआ नींबू पानी 4 से 5 बार पिलाने पर भांग का नशा उतर जाएगा।

यह भी पढ़ें-

वॉक करना सेहत के लिए होता है लाभदायक, जानिये कैसे