अपनाए ये घरेलू नुस्खों और पाएं चर्म रोग से छुटकारा

शरीर में कोई भी रोग हो जाए तो उस मनुष्य को अच्छा नहीं लगता इसलिए वो कई प्रकार की दवाइयां लेता है नुस्खे अपनाता है इत्यादि। चर्म रोग शरीर की त्वचा पर कहीं भी हो सकता है। इस रोग से सबसे ज्यादा परेशानी बारिश के मौसम में होती है। आइये जानते है इस रोग से बचने के कुछ घरेलु उपायो के बारे में ।

सेव का सेवन

चर्म रोग होने पर सुबह रोजाना खाली पेट एक सेब का सेवन करके ऊपर से हल्का गर्म दूध पीने से चर्म रोगो में बहुत आराम मिलता है । इस प्रकार आप इनका प्रयोग करके आजमा सकते हो।

हल्दी ( टरमेरिक ) 

हल्दी के पाउडर को सरसों के तेल में मिलाकर लगाने से चर्म रोग बहुत जल्द ठीक होने लगते है। यह घरेलू इलाज भी करके देख सकते हो।

गाजर का जूस

गाजर का जूस रोजाना पीने से ब्लड साफ़ होता है और चेहरे पर निकलने बाले पिम्पल्स ख़त्म हो जाते है साथ ही यह शरीर पर होने बाले फोड , फुंसियो को भी ठीक कर देता है।

नींबू का रस 

चर्म रोग होने पर नींबू के रस को चर्म रोग पर लगाये और रोज सुबह एक गिलास पानी में नींबू का रस निचोड़कर पीने से भी चर्म रोग ठीक हो जाते है।

पपीता का सेवन

अच्छे से पके हुए पपीते का गूदा निकालकर चर्म रोगों पर लगाने से चर्म रोग ठीक होने लगते है ।

 नीम की पत्तियाँ

नीम की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बना लें फिर इस पेस्ट को चर्म रोगो पर कम से कम 15 मिनट तक लगा रहने दे उसके बाद साफ़ पानी से धो ले ऐसा कुछ दिनों तक करने से चर्म रोग ठीक हो जाते है।

लहसुन का रस भी लाभकारी

चर्म रोग के लिए लहसुन का रस भी काफी लाभकारी सिद्ध होता है। लहसुन का रस निकालकर चर्म रोगो पर लगाने से भी चर्म रोग ख़त्म हो जाते है ।

जैतून का तेल

जैतून के तेल को त्वचा पर होने बाली खुजली में लगाने से खुजली में तुरंत आराम मिलता है ।

नारियल तेल

नारियल तेल को गर्म करके खुजली बाली जगह पर लगाने से खुजली जल्द ठीक होने लगती है क्योंकि यह एक एंटी बैक्टीरियल तेल होता है ।

यह भी पढ़ें-

जानिए पिस्ता खाने के अनेकों लाभ !