वायरल बुखार से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलु नुस्खे

मौसम में बदलाव, सर्दी, खांसी, जुकाम, इन्फेक्शन के कारण आप वायरल फीवर से प्रभावित हो सकते है। वायरल बुखार तीन से सात दिन तक रहता है। यह बुखार किसी भी मौसम में आपको परेशान कर सकता है। अगर आपको वायरल फीवर है तो आपके संपर्क में रहने वाला दूसरा व्यक्ति भी इससे प्रभावित हो सकता है। इसलिए हमे इस बुखार में आवश्यक सावधानियां रखने की आवश्यकता है। वैसे तो एलोपेथी में इस बुखार के लिए बहुत सी दवाइयां है लेकिन कुछ आसान घरेलू उपायों को अपनाकर भी इस बुखार से आराम पा सकते हैं। आइये जानते हैं कुछ घरेलू उपचार –

तुलसी की चाय पीएं तुलसी को बुखार में प्राकृतिक औषधी के रूप में प्रयोग में लिया जाता है। तुलसी की चाय व इसके पत्ते एंटीबैक्टेरिया व एंटी वायरस के रूप में काम करते है।  5 पत्ते तुलसी व 5 काली मिर्च के दानों को 2 गिलास पानी में अच्छे से उबाल लें।  जब यह काढ़ा ठंडा हो जाए तो छान प्रयोग में लाएं।

हर्बल टी का करें इस्तेमाल वायरल बुखार में आप हर्बल टी पीएं। आप अदरक, तुलसी, शहद, नीबू, पुदीना आदि किसी की भी चाय पी सकते है।

अदरक का करें सेवन अदरक वायरल बुखार में बहुत फायदेमंद है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते है जो वायरल फीवर को कम करने में अत्यंत सहायक होता है।  2 ग्लास पानी में चीनी, काली मिर्च व थोड़ी सी मात्रा में हल्दी को उबाल लें।  जब यह उबलकर थोड़ी मात्रा में रह जाए तो इसे पी लें।

फल खाएं वायरल बुखार में हल्का फुलका फल खाएं जिससे आपके शरीर को ताकत भी मिल सके। आप इसके लिए भरपूर मात्रा में फलों का सेवन करें।  फल जल्दी से पच जाते है और इनसे शरीर को ताकत भी मिलती है।

भरपूर मात्रा में तरल पदार्थ लें वायरल में भरपूर मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन करें। यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है।  आप फलों का रस, नारियल पानी, सूप व पानी भरपूर मात्रा में पीएं।

जानिये कैसे, आपकी त्वचा के लिए बहुत लाभदायक है दालचीनी