अपनाएं ये घरेलू उपाय, बालों की जड़ों को मज़बूत बनाने के लिए !

स्ट्रेस जैसी कई सारी समस्याओं से महिला हो या पुरुष, दोनों के ही साथ बालों के गिरने की समस्या बहुत आम हो चुकी है। इसके लिए तमाम तरह के ट्रीटमेंट कराने पर भी खास फायदा नहीं होता। लेकिन घर में मौजूद कलौंजी इस समस्या के निपटारे में बहुत ही जबरदस्त कारगर उपाय है। कलौंजी को निजेला सेटिवा या काला जीरा भी कहा जाता है। कलौंजी के औषधीय गुणों के कारण यह बालों और त्वचा के लिए कई तरीके से बहुत ज्यादा लाभदायक है। कलौंजी केवल औषधीय गुणों के कारण ही नहीं जानी जाती बल्कि त्वचा और बाल विशेषज्ञों के अनुसार यह बालों के लिए भी बहुत ही ज्यादा लाभदायक होता है।

बालों के विकास में सहायक

कलौंजी बालों की वृद्धि में बहुत सहायक होता है। यदि आप अपने बालों की जड़ों को बहुत मज़बूत करना चाहते हैं और बालों को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको कलौंजी के पेस्ट का उपयोग अवश्य करना चाहिए। 3 से 4 कलौंजी लें और उसे एक घंटे तक पानी में भिगोकर रखें। अब इसे पीसकर पेस्ट बनायें। अब कलौंजी के इस पेस्ट में दो चम्मच शहद और एक चम्मच दही भी मिलाएं। सभी चीज़ों को अच्छी तरह मिलाएं। इस पेस्ट को सिर की त्वचा पर लगायें और बाद में पानी से धो डालें।

बाल झड़ने के उपचार में सहायक

कभी कभी उम्र, हार्मोन्स की समस्या, स्वस्थ आहार न लेना और सफाई न रखना आदि कारणों से बाल बहुत झड़ने लगते हैं। बाल झड़ने की समस्या से निपटने के लिए कलौंजी बहुत ही उपयोगी है। दो चम्मच कलौंजी लें और इसमें एक चम्मच ऑलिव ऑइल (जैतून का तेल), एक चम्मच नारियल का तेल और एक चम्मच कैस्टर ऑइल अच्छे से मिलाएं। सभी चीज़ों को अच्छी तरह मिलाएं और कुछ देर गर्म करें। अब इस मिश्रण से सिर की त्वचा की मालिश करें और सिर पर गर्म पानी में भिगोया हुआ टॉवल लपेट लें ताकि इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके। इसके बाद शैंपू और कंडीशनर से बाल धो डालें।

डैंड्रफ के उपचार के लिए

कलौंजी के तेल में एंटीवायरल और एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो स्कैल्प पर आने वाले डैंड्रफ के उपचार में बहुत सहायक होते हैं। डैंड्रफ की समस्या महिलाओं और पुरुषों में होने वाली आम समस्या है जो कभी कभी गंभीर समस्या भी बन जाती है। खैर, यदि आप डैंड्रफ से बहुत अधिक परेशान हैं तो कलौंजी इस समस्या का समाधान कर सकती है। कलौंजी का तेल लें और इसे कुछ देर गर्म करें। अब इसमें एक चम्मच नारियल का तेल मिलाएं और सिर की त्वचा पर इससे मालिश करें। इसे रात भर लगा रहने दें और फिर सुबह गुनगुने पानी से धो डालें।

बालों को घना बनाता है

कलौंजी न केवल बालों को झड़ने से रोकती है बल्कि यह बालों को बहुत घना भी बनाती है। कलौंजी के कुछ दाने लें और उन्हें एक गिलास पानी में 10 मिनिट तक उबालें। इसके बाद गैस तत्काल बंद कर दें। पानी को ठंडा होने दें और इसमें दो चम्मच नीबू का रस मिलाएं। दोनों चीज़ों को अच्छी तरह मिलाएं और बालों को धोने के बाद इस पानी को बालों पर डालें। इससे बाल बढ़ते हैं और घने तथा कोमल होते हैं। इस उपचार को सप्ताह में दो बार अपनाएँ।

सिर की त्वचा की खुजली के उपचार में सहायक

सिर की त्वचा गंदी होने कारण खुजली और इंफेक्शन (संक्रमण) जैसी कई गंभीर समस्याएं हो जाती हैं। इसके अलावा सिर पर बहुत अधिक मात्रा में केमिकल्स का उपयोग करने के कारण भी यह समस्या हो जाती है। तो यदि आप सिर की त्वचा की खुजली से बहुत ज्यादा परेशान हैं तो आपको कलौंजी का उपयोग कर सकते हैं। थोड़ी कलौंजी लें और उन्हें पीसकर पेस्ट बनायें। अब इसमें एक चम्मच एलोवेरा जैल, एक चम्मच ऑलिव ऑइल और 1/2 चुटकी हल्दी मिलाएं और इस मिश्रण को सिर की त्वचा पर लगायें। 30 मिनिट बाद इसे पूरी तरह धो डालें। कलौंजी से बने इस मास्क के उपयोग से सिर की त्वचा की खुजली से बहुत आराम मिलता है।