अपनाये ये आसान उपाय, ब्लड शुगर के लेवल को नियंत्रित करने के लिए

शुगर की गंभीर बीमारी दुनिया भर में फैली हुई है। वहीं भारत तो इस बीमारी का पूरी तरह गढ़ बन चुका है। इसका सबसे बड़ा कारण हमारा रहन-सहन और खानपान होता है। डॉक्टरों के अनुसार पिछले दो दशकों में यह बीमारी दो गुनी तेजी से फैली है। मधुमेह एक ऐसी गंभीर बीमारी है जिसे ठीक नहीं किया जा सकता है इसे सिर्फ कंट्रोल किया जा सकता है। यही नहीं इसकी बुरी बात यह है कि यह छोटे छोटे बच्चों को भी हो रही है। हम आपकों कुछ बातें बता रहे है जिनको ध्यान में रख कर आप डायबिटीज को पूरी तरह कन्ट्रोल कर सकते है।

शरीर की बुरी हालत केवल जंक फूड खाने से ही होती है। इसमें ना केवल खूब सारा नमक होता है बल्कि शक्‍कर और कार्बोहाइड्रेट्स तेल के रूप में होता है। यह सब आपके ब्‍लड शुगर लेवल को बढाते हैं।

ऑक्‍सीटोसिन और सेरोटिन दोनों ही नसों की कार्यक्षता पर असर डालते हैं। तनाव होने पर एड्रानलिन का रिसाव होता है तब यह डिस्‍टर्ब हो जाता है और डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है।

दालचीनी, शरीर की सूजन को कम करता है तथा इंसुलिन लेवल को नियंत्रित करता है।

ब्लड सुगर लेवल को नियंत्रण में रखने के लिए मेथी सबसे अच्छा खाद्य पदार्थ है।

ताजे फलों में विटामिन ए और सी होता है जो कि खून और हड्डियों के स्‍वास्‍थ्‍य को स्वस्थ रखता है। इसके अलावा जिंक, पोटैशियम, आयरन का भी अच्‍छा मेल पाया जाता है। इसमें फाइबर भी होता है जिससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रण में रहता है।

पालक, खोभी, करेला, अरबी, लौकी आदि मधुमेह में स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक होती हैं।

आपको चीनी, गुड़, शहद, कोल्ड ड्रिंक्स आदि कम खानी चाहिए जिससे रक्त में शर्करा का स्तर बिल्‍कुल नियंत्रण में रहे।

कसरत करने से खून का दौरा सही  रहता है, जिससे खून मेंशक्कर की मात्रा भी काबू में ही रहती है।

शरीर में विटामिन डी की कमी से शरीर में इंसुलिन की मात्रा बढ़ जाती है। इसलिए सही मात्रा में विटामिन डी खाते रहें जिससे ब्लड सुगर लेवल का स्तर कम रहे।

विटामिन E की कमी क्यों बहुत नुकसानदेह है दिमाग के लिए जानिए