दांतों की तकलीफ दूर करने के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स

शरीर के बाकी अंगों की तरह दांतों का स्वस्थ्य होना भी बहुत ही आवश्यक है। दांत पीले या खराब हो जाएं तो देखने में भी विल्कुल ही अच्छे नहीं लगते। इसके साथ ही कमजोर दांतों के कारण इनमें ठंड़ा या गर्म लगना भी शुरू हो जाता है। जिससे कई बार दांतों में तेज झंझनाहट होनी भी शुरू हो जाती है। इस कारण आसानी से कुछ खाना-पीना भी बहुत मुश्किल हो जाता है।

वैसे तो दांतों की सैंसीविटी से बचने के लिए बाजार में कई तरह के टूथपेस्ट भी मौजूद हैं लेकिन इनके इस्तेमाल से कुछ समय तक ही दांत सिर्फ ठीक रहते हैं। उसके बाद दोबारा यह समस्या आनी स्टार्ट हो जाती है। आज हम दांतों की झंझनाहट की परेशानी को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आएं हैं,जिससे आपकी यह परेशानी विल्कुल दूर हो जाएगी।

काले तिल

दांतों में सैंसिविटी की बहुत गहरी समस्या है तो रोजाना दिन में 2 बार 1-1 चम्मच काले तिल चबाएं। इसके इस्तेमाल से दांतों में झुनझुनाहट की समस्या बहुत दूर हो जाएगी।

तिल,सरसों और नारियल का तेल

1-1 चम्मच तिल,सरसों और नारियल का तेल लें। इन सबको अच्छी तरह से मिक्स कर लें। रोजाना ब्रश करने के बाद इस मिक्स किए हुए तेल से दांतों और मसूढ़ों की अच्छी तरह से मसाज करें। मसाज करने के बाद गुनगुने पानी से कुल्ला करें। इससे दांत और मसूढ़े मजबूत होने बहुत जल्द शुरू हो जाएंगे।

नमक और सरसों के तेल

थोड़ा सा नमक और सरसों का तेल दोनों को अच्छे से मिक्स कर लें। इस मिश्रण से दांतों की धीरे-धीरे मसाज करें। रोजाना मसाज करने से मसूढ़े और दांत बहुत ही मजबूत होते हैं।

हल्दी के पानी से होता है बहुत लाभ, जानिए की बीमारियों को करता है दूर

हल्दी को शुरू से ही सेहत के लिए बहुत बड़े वरदान के रूप में लिया जाता है। इसे रोज लेने से हाजमा ठीक होने से लेकर जोड़ो तक का दर्द तक ठीक हो जाता है। इसलिए यदि आप यह चमत्कारिक फायदे देने वाला हल्दी का पानी रोज लेते हैं तो आप कई सारी बीमारियों से खुद बच सकते हैं।

अपनाये ये उपाए और पाये फटी एड़ियों से छुटकारा