पिंपल्‍स हटाने के लिए अपनाये ये नुस्खे

वर्तमान समय में ब्यूटी ट्रीटमेंट में थ्रेडिंग का अत्यधिक इस्तेमाल किया जाता है। थ्रेडिंग आंखों की आईब्रो व आंखों के चारो तरफ किया जाने वाला बहुत ही प्रसिद्ध व प्राचीन कालीन सौन्दर्य विधि है। शादी हो या पार्टी थ्रेडि़ग करने से चेहरे की त्वचा पर एक अलग सी चमक व सुन्दरता आ जाती है। अकसर आपने ध्यान दिया होगा कि थ्रेडि़ग के बाद त्वचा पर दाने, पिंपल्स, हल्के धब्बे अवश्य ही बन जाते हैं। थ्रेडिंग के बाद ध्यान रखें इन बातों का…..

# थ्रेडिंग करवाने से पहले चेहरे को अच्छी तरह धोकर बहुत ही अच्‍छे से पोंछ लें। त्‍वचा को गुनगुने पानी से धोने पर बहुत ज्‍यादा फायदा होता है। इससे थ्रेडिंग करवाते समय दर्द कम होगा और आप अत्यधिक फ्रेश फील करेगी।

# फिर एक कॉटन का बहुत ही साफ कपड़ा लेकर अपने चेहरे को हल्‍के हाथों से पोंछ लें। क्‍योंकि रगड़कर पोंछने से आपकी त्‍वचा पूरी तरह ड्राई हो सकती है।

# अब घरेलू टोनर लगाकर अपने चेहरे को बहुत ही हल्‍का नम कर दें। आप चाहें तो दालचीनी की चाय को टोनर के रूप में अवश्य ही लगा सकते हैं।

# अब पार्लर में जाकर थ्रेडि़ंग बना लें।

# फिर टोनर को आईब्रो पर लगाकर बारीक़ से बर्फ लगाएं। इससे आपको जलन और संक्रमण नहीं होता है।

# अगर आप अपना चेहरा धोना चाहती हैं तो गुलाब जल से ही धोयें। यह प्राकृतिक जल, आईब्रो पर लगने वाले कट को सही कर देता है और दाने व पिंपल भी पूरी तरह सही हो जाते हैं।

# यह सुनिश्चित करें कि थ्रेडिंग करवाने के बाद 12 से 24 घंटे के बीच थ्रेडि़ग वाले हिस्‍से को न छुएं। ऐसा करने से वहां पिंपल्‍स, चकत्ते या जलन पैदा हो सकती है।