पूर्व BCCI सिलेक्टर का ऋषभ पंत की कप्तानी को लेकर कड़ा बयान, मेरे बस में होता तो…

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज के लिए रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में केएल राहुल को कप्तान चुना गया था, लेकिन उनके चोटिल होने के बाद यह जिम्मेदारी ऋषभ पंत को सौंप दी गई थी। भारत को पांच मैचों की सीरीज के पहले दो मैच में हार का सामना करना पड़ा और इसके बाद दो मैच जीतकर टीम इंडिया ने सीरीज में वापसी की।

आखिरी और निर्णायक टी20 इंटरनेशनल मैच बारिश में धुल गया, जिसके बाद सीरीज 2-2 से ड्रॉ पर खत्म हुई। इस दौरान पंत की कप्तानी को लेकर अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं आई हैं। टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी और सिलेक्टर रह चुके मदन लाल ने पंत की कप्तानी को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

मदन लाल का मानना है कि पंत को पहले बल्लेबाज के तौर पर मैच्योरिटी दिखानी चाहिए और इसके बाद ही उन्हें कप्तान की जिम्मेदारी दी जानी चाहिए। स्पोर्ट्स तक पर मदन लाल ने कहा, ‘मैं उन्हें कप्तान बनाने से रोकता। मैं ऐसा होने ही नहीं देता। क्योंकि ऐसे खिलाड़ियों को यह जिम्मेदारी बाद में दी जानी चाहिए।

भारत का कप्तान बनना बड़ी बात है, वह अभी युवा खिलाड़ी है मदन लाल ने आगे कहा, ‘वह अभी कहीं नहीं जा रहा है। जितना ज्यादा वह खेलेगा, उसमें उतनी ज्यादा मैच्योरिटी आएगी। अगले दो साल में अगर वह अपने खेल को अगले लेवल तक ले जाता है, तभी वह अच्छा कप्तान बन सकता है।

वह चीजों को बेहतर तरीके से डील कर पाएगा। वह अलग तरह का खिलाड़ी है। एमएस धोनी काफी शांत कप्तान थे, जो उनकी कप्तानी के लिए सही था। मैं यह नहीं कह रहा कि पंत को ऐसे रिस्की शॉट नहीं खेलने चाहिए, लेकिन उसे थोड़ी और मैच्योरिटी के साथ बल्लेबाजी करने की जरूरत है।’

यह पढ़े: बिग बैश लीग चला आईपीएल की राह पर, विदेशी खिलाड़ियों के लिए होगा होगा ड्राफ्ट सिस्टम