पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव की हो सकती है फिर से जदयू मे वापसी

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले बिहार मे राजनीतिक उठा-पटक दलबदल और घर वापसी का खेल लगातार जारी है। राजद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह के JDU में जाने की अटकलों के बीच अब पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव के जेडीयू में वापस आने के संकेत मिल रहे हैं। सूत्रों की जानकारी के मुताबिक शरद यादव को JDU में शामिल करने को लेकर कई वरिष्ठ नेताओं ने संपर्क साधा है। पार्टी के विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एक बार फिर से शरद यादव की घर वापसी हो सकती है।

दोबारा पार्टी में लाने के लिए जनता दल यूनाइटेड के कई वरिष्ठ नेताओं ने शरद यादव से संपर्क साधा है। शरद यादव को 2019 के लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा था. मधेपुरा लोकसभा सीट पर उनको जदयू नेता दिनेशचन्द्र यादव ने 1 लाख के करीब वोटों से हराया था। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक जनता दल के नेता और 2019 में आरजेडी के टिकट से लोकसभा चुनाव लड़े शरद यादव को दोबारा पार्टी में लाने के लिए जनता दल यूनाइटेड के कई वरिष्ठ नेताओं ने शरद यादव से संपर्क साधा है और फिर से जनता दल यू में शामिल करने को लेकर बात बन रही है. शरद यादव को 2019 के लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा था. मधेपुरा लोकसभा सीट पर उनको जदयू नेता दिनेशचन्द्र यादव ने 1 लाख के करीब वोटों से हराया था

कुछ दिन पहले शरद यादव की तबियत बिगड़ने के बाद उनको इलाज के लिए दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जानकारी के मुताबिक जनता दल यूनाइटेड के कई वरिष्ठ नेताओं ने हालचाल जाने के बहाने शरद यादव से बात की और एक बार फिर जदयू में शामिल करने को लेकर बात आगे बढ़ाई है।

पार्टी के विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एक बार फिर से शरद यादव की घर वापसी हो सकती है। सूत्रों की जानकारी के मुताबिक शरद यादव को जदयू में शामिल करने को लेकर कई वरिष्ठ नेताओं ने संपर्क साधा है। बिहार चुनाव को लेकर पूरी तरह से वर्किंग मोड में आ चुके जेडीयू की कोशिश है कि शरद यादव की घर वापसी के साथ ही लालू के परंपरागत वोटर्स यानी यादवों के वोट बैंक में सेंध लगाया जा सके। शरद यादव वैसे तो एमपी  के रहने वाले हैं लेकिन उनका बिहार की राजनीति में खासा प्रभाव रहा है।