मजेदार जोक:पप्पू भागा हुआ आया और बोला –

संता गाड़ी चला रहा था ,

पीछे बैठे दोस्तों को कार के शीशे से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था ,

सब हैरान थे कि कुछ नहीं दिख रहा ,

फिर भी संता कैसे गाड़ी चला रहा है ?

दोस्त – पाजी आप तो बड़े अच्छे ड्राइवर हो कुछ नहीं दिख रहा फिर भी बढियां चला रहे हो ,

संता -वो मेरा चश्मा(Glasses) बार बार खो जाता है ना इसीलिए ,

दोस्त -मतलब ?

संता -मतलब ये कि कार के शीशे की जगह चश्मे का शीशा लगवा लिया है

🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂

संता ट्रेन से सफर कर रहा था ,
ट्रेन एक स्टेशन पे कुछ देर के लिए रुकी ,

संता ने जल्दी से आवाज देकर पप्पू को बुलाया , बोला –

यार इस स्टेशन पे गाड़ी बस थोड़ी देर के लिए ही रूकती है ,
इसीलिए मैं नहीं उतर रहा ,

ये ले 20 रुपये और मेरे लिए भाग कर वो सामने वाली दुकान से
4 कचौड़ी ले आ और 2 तू खा लेना ,
2 मेरे लिए लेते आना ,

जैसे ही ट्रेन चलने लगी ,

पप्पू भागा हुआ आया और बोला –

उसके पास बस 2 ही कचौड़ी थी ,
वो मैंने खा ली ,
ये तो 10 रुपये वापस ,

**************************************************

संता ड्राइवर बन गया,

जज – बस खाई में कैसे गिरी,
सारी सवारी मर गयी ?

संता – साहब , मुझे नहीं पता ,

जज – क्या ? पर गाड़ी तो तुम चला रहे थे ,

संता – हाँ , पर उस दिन कंडक्टर नहीं आया था ,

तो मैं टिकट बनाने पीछे चला गया ,

जज बेहोश

🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂

संता को बुरी तरह दस्त हो गए,

Doctor- निम्बू का इस्तेमाल करो,

संता – ठीक है,

2 दिन बाद,

Doctor- अब दस्त कैसे हैं?

संता का खतरनाक जवाब, बोला-

निम्बू हटाते ही फिर शुरू हो जाते हैं

🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂

संता अपनी बीवी को English सीखा रहा था,

दोपहर को बीवी संता के पास आई , बोली –

Dinner कर लो जी ,

संता – अरे गवांर औरत ,

Dinner रात के खाने को बोलते हैं,
दोपहर के खाने को लंच बोलते हैं ,

बीवी – गवांर तू ,तेरा खानदान ,
ये रात का ही बचा हुआ खाना है 🙂 🙂

**************************************************

यह भी पढे:-

मजेदार जोक: तुम्हारी शैक्षणिक योग्यता क्या है?