मजेदार जोक्स:बोलो बच्चों गंगा नदी पटियाला से निकलती है।

अध्यापक – बोलो बच्चों गंगा नदी पटियाला से निकलती है |

छात्रा – सर नहीं गंगा नदी पटियाला से नहीं निकलती |

प्रिंसिपल – महोदय आप भी कैसे अध्यापक है | गंगा नदी पटियाला से नहीं गंगोत्री से निकलती है |

अध्यापक – प्रिंसिपल महोदय , गंगा नदी पटियाला से ही निकलती है तथा तब तक निकलती रहेगी , जब तक मेरी सात महीने की तनखाह नहीं मिल जाती

😂😁

अध्यापक ( छात्रों से ) – अगर न्यूटन पेड़ के नीचे नहीं बैठते और उनके सिर के ऊपर सेब नहीं गिरता तो गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत हमें कैसे पता चलता |

छात्र – सर ! बिलकुल सही कहा आपने , अगर न्यूटन हमारी तरह क्लास में बैठकर इसी तरह किताब पढ़ रहे होते तो वो भी कोई आविष्कार नहीं कर पाते |

😁😂

संगीत के अध्यापक ने अपने एक छात्र से पूछा-तुम किस ताल के विषय में अधिक जानते हो ? छात्र ने तुरंत उत्तर दिया – सर ! में हडताल के विषय में अधिक जानता हूं|

**************************************************

अध्यापक – तुम कैसे सिद्ध करोगे कि साग-पात खाने वाले की निगाहें तेज होती है |

छात्र – सर , आज तक किसी ने बकरे या घोडे को चश्मा लगाते देखा है क्या ?

😁😂

अध्यापक -तुम बडे मुर्ख हो बालक , मै तुम्हारी उम्र मे अच्छी तरह किताब पढ लेता था |

छात्र – श्रीमान आपको अच्छा मास्टर मिल गया होगा?

😁😂

शिक्षक ने क्लास में लडके की कॉपी जांचते हुए उससे कहा- मुझे आश्चर्य होता है कि तुम अकेले इतनी सारी गल्तियां करते हों ?

लडके ने खडे होकर कहा – यह सब गल्तियां मैंने अकेले नहीं की हैं , मेरे पिता जी ने भी इसमें मुझे मदद दी है |

**************************************************

मजेदार जोक्स:घर में चोर घुस आया…