गहलोत खेमे के विधायक का दावा, पायलट मेरी मानते तो 40-45 विधायक होते

राजस्थान सियासी संकट के बीच गहलोत खेमे के कांग्रेसी विधायक प्रशांत बैरवा ने चौंकाने वाला बयान दिया है। एक समाचार चैनल पर बोलते हुए प्रशांत ने कहा कि सचिन पायलट को इस बात का अहसास नहीं था कि उनके पास एक बड़ी टीम है। यदि वह हमसे सलाह लेते तो और बेहतर होते। विधायक ने कहा कि यदि सचिन उनके सुझावों पर विचार करते तो उनके पास 40-45 विधायक हो सकते थे। संभव है सचिन ने आवेश में गुरुग्राम जाने का निर्णय लिया हो।

निवाई से कांग्रेस विधायक प्रशांत बैरवा सचिन पायलट के वफादार माने जाते हैं और 11 जुलाई को मानेसर से गहलोत कैंप लौटे चार विधायकों में शुमार थे। इन चार विधायकों में दानिश अबरार, रोहित बोहरा, प्रशांत बैरवा और चेतन डूडी का नाम शामिल है। प्रशांत ने कहा कि सचिन पायलट जिन लोगों पर भरोसा कर रहे है, वे ही उन्हें सबसे पहले उजाड़ देंगे। उन्होंने कहा, “यहां उनके शुभचिंतक भी हैं, लेकिन हम सभी कांग्रेस के साथ हैं।

बैरवा ने दावा किया कि पायलट गुट के कुछ विधायक भी सरकार में लौटने के इच्छुक थे लेकिन उन्हें अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि असंतुष्ट विधायकों को कोई स्वतंत्रता नहीं है। यह संभव है कि वे वापस लौटना चाहते हों लेकिन उन्हें रोका जा रहा है।

यह भी पढ़े: सुशांत आत्महत्या केस: CBI ने रिया चक्रवर्ती समेत छह लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR
यह भी पढ़े: नए और यूनिक कांसेप्ट को लेकर सुनील ग्रोवर ला रहे है नया शो ‘कॉमेडी स्टार्स’