ऐसे पाएं पीरियड्स में होने वाले दर्द से छुटकारा

महिलाओं को प्रत्येक महीने 3 से 4 दिन तक पीरियड्स के गंभीर दर्द से गुजरना पड़ता है। सामान्यतौर पर 21 दिनों के बाद पीरिड्स आ जाते हैं। इस दौरान कमर, पेट व पेट के निचले हिस्से, बदन दर्द जैसी परेशानी बहुत ही नार्मल हैं लेकिन कई बार यह दर्द इतना अधिक असहनीय हो जाता है कि इससे छुटकारा पाने के लिए दर्द निवारण दवाओं का सहारा लेना पड़ता है। मगर क्या आप यह जानते है कि कुछ फूड्स के सेवन से आपकी यह गंभीर समस्या बढ़ जाती है। आज हम आपको बताएंगे कि पीरियड्स के दर्द से राहत पाने के लिए आपको किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

इन्फ्लैमरेटरी फूड्स से बचें
जब आपके पीरियड होते हैं तो आप दर्द को पूर्ण्तः कम करने के लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाती है। लेकिन आपको बहुत ज्‍यादा चीजें करने की आवश्यकता नहीं हैं क्‍योंकि अच्‍छी डाइट पेट को ठीक करने और ऐंठन को कम करने में मदद करती है। इसलिए ज्‍यादा Greasy फूड से बचें और हरी सब्जियों को अपनी डाइट में शमिल करें।

डेयरी प्रॉड्क्ट
कई महिलाएं पीरियड्स के दौरान दूध से बनी चीजों को सेवन कर लेती है, जिनमें मौजूद सेचुरेटेड फैट्स पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द और तकलीफ को और बढ़ा देता है।

ज्यादा नमक
अधिकतर बार महिलाएं अपने मुंह का टेस्ट बदलने के लिए बहुत अधिक चटपटी चीजे जैसे अचार, सॉस, पोटेटो चिप्स आदि का सेवन कर लेती है, जिनमें नमक की मात्रा अधिक होती है। इसी वजह से शरीर में सोडियम लेवल बढ़ जाता है और यूरिन की समस्या सामने आती है।

चाय और कॉफी
चाय और कॉफी में कौफीन की मात्रा बहुत होती है, जिसका पीरियडस् के दौरान सेवन करना बहुत हानिकारक साबित होता है। शरीर में कैफीन का माात्रा बढ़ने से यूरिनेशन, मूड खराब, इसके अलावा अनिद्रा की प्रॉबल्म आ सकती है।

कोल्ड ड्रिंक्स
इसी तरह मासिक धर्म में कोल्ड ड्रिंक का सेवन करने से शुगर की मात्रा बहुत बढ़ जाती है, जिससे पीरियड्स अनियमित हो जाते है। इसलिए इस तरह की ड्रिंक लेने की बजाए नैचुरल ड्रिंक का सेवन करें।

यह भी पढ़ें-

नहीं जानते होंगे आप केला खाने के ये नुकसान