काली खांसी से ऐसे पाएं निजात

जब मौसम में गंभीर बदलाव होता हैं तो इस समय बच्चे कई गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। बरसात के बाद ठंढ आते ही वातावरण में संक्रमण बढ़ जाता हैं। जिसका सबसे ज्यादा प्रभाव बच्चों पर पड़ता हैं। इस मौसम में उनको सर्दी-जुकाम के अलावा काली खांसी की भी गंभीर समस्या होने का खतरा बना रहता हैं। यह बीमारी संक्रमण के कारण होती हैं। इसमें शरीर में दर्द, उल्टी जैसा मन, सर्दी-जुकाम और हल्का बुखार होता हैं। ऐसे में घरेलू उपायों को अपनाकर काली खांसी से निजात पाया जा सकता हैं। आइए जानते हैं इससे बचने के कुछ घरेलू उपायों के बारे में…

• खांसी होने पर मुलेठी का सेवन करना चाहिए। मुलेठी का एक छोटा टुकड़ा लेकर उसको मुंह में डालकर चूसने से काली खांसी से राहत मिलती है।

• अदरक को पीसकर रस निकाल लें। अब इसमें शहद मिलाकर पीएं। इसके इलावा आप अदरक का रस, नींबू का जूस, प्याज का रस मिलाकर पीएं। रोजाना अदरक का सेवन करने से काली खांसी को कुछ हफ्तों में अवश्य दूर किया जा सकता है।

• हल्दी में एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल होते हैं जो गले में बलगम जमा नहीं होने देते। एक चम्मच शहद में हल्दी मिलाकर खाएं। इसके अलावा आप हल्दी वाला दूध भी अवश्य पी सकते हैं। हल्दी बहुत जल्दी सर्दी ,जुकाम को खत्म करती है।

• चार चम्मच जैतून के तेल में 3-4 बूदें अजवायन की पत्तियां डालकर हल्का गर्म करें। जब तेल गुनगुना हो जाएं तो इससे रात को सोने से पहले छाती की मालिश करें।

यह भी पढ़ें:

इस मानसून में जरूर खाएं इम्यूनिटी बढ़ाने वाली ये 3 चीजें

वायरल फीवर को कुछ ही समय में कीजिए छूमंतर, जानिए कैसे?