पथरी की समस्या से ऐसे पाएं आसानी से छुटकारा

पथरी का रोग बहुत ही कष्टदायक होता है। और यह दर्द अचानक से बहुत तेज उठता है। पथरी जब मूत्रनली में आ जाती है तब रोगी को बहुत ही तेज तेज दर्द होता है। यह दर्द सहने योग्य नहीं होता। पथरी का उपचार लाइलाज नहीं है। आयुर्वेद में इसका इलाज पूरी तरह संभव है। तो आइये जानते है पथरी दूर करने के कारगर आसान घरेलू उपाय….

कच्चे पालक का रस – पथरी को पूरी तरह दूर करने के लिए रोगी को नियमित रूप से कच्चे पालक का रस कुछ समय तक लगातार अवश्य ही पीते रहना चाहिए एैसा करने से यह रोग बहुत ही जल्दी ठीक हो सकता है।

चुकन्दर का रस – चुकन्दर का रस प्रतिदिन पीने से भी पथरी बनना पूरी तरह रूक जाता है। चुकन्दर को पानी में उबालकर उसका सूप का सेवन करने से भी पथरी बननी पूरी तरह खत्म हो जाती है।

सेब का जूस – नियमित रूप से सेब का जूस पीने से पथरी का रोग कभी भी नहीं होगा। क्योंकि यह पथरी को शरीर में बनने ही नहीं देता।

गाजर का ताजा जूस – दिन में 3 से 4 बारी तक गाजर का ताजा जूस पीने से मूत्राशय और गुर्दे की पथरी पेशाब के रास्ते पूरी तरह बाहर आ जाती है।

छुआरा – छुहारे भी पथरी रोग से निजात दिलवाने में अत्यधिक सहायक होते हैं। कुछ दिनों तक लगातार छुहारों का सेवन करने से भी पथरी का रोगी पूरी तरह ठीक हो सकता है।