बच्चे को इस तरह छुड़ाएं ब्रेस्टफीडिंग की आदत

यह तो हम सभी जानते हैं कि बच्चे के लिए मां के दूध से बेहतर और कुछ नहीं हो सकता। शिशु के जन्म लेने के बाद उसे केवल मां का दूध ही दिया जाना चाहिए। लेकिन जैसे-जैसे बच्चा बड़ा होने लगता है, उसकी आहार संबंधी जरूरतें बढ़ने लगती हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप बच्चे को ठोस आहार खिलाना शुरू करें। अक्सर देखने में आता है कि बच्चे के बड़े होने के बाद भी वह ब्रेस्टफीडिंग करना नहीं छोड़ता, जिसके कारण मां को काफी परेशानी होती है। अगर आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है तो आप इन आसान उपायों को अपना सकते हैं-

बच्चा एकदम से मां का दूध पीना नहीं छोड़ता, इसलिए बच्चे को धीरे-धीरे दूध छुड़वाएं। पहले उसकी फीडिंग का टाइम बढ़ाते जाएं और उसे ठोस आहार खिलाना शुरू करंे।

बच्चे की नजरों से ज्यादा से ज्यादा दूर रहने की कोशिश करें क्योंकि बच्चा मां को देखकर बार बार दूध पीने के लिए रोता है। अगर ऐसा न कर सकें तो उसको खेल-खेल में कुछ चीजें ट्राई कराना सीखें।

कुछ मांए जबरदस्ती बच्चे को खाना खिलाती हैं, लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से बच्चों में गैग रिफ्लेक्स बड़ों से ज्यादा सक्रिय होता है और वो खाना उगल देते हैं।

ऊपरी आहार के साथ आप उसे दूध देते रहें लेकिन बहुत कम समय के लिए फीड कराएं और बहुत देर पर ऐसा करें। ताकि वह खाने की ओर ज्यादा प्रेरित हो।

Loading...