प्लेटलेट्स बढ़ाने में कारगर है गिलोय, जानें इस्तेमाल का तरीका

एक स्वस्थ व्यक्ति के ब्लड में सामान्य तौर पर डेढ़ लाख से लेकर साढ़े 4 लाख तक प्लेटलेट्स प्रति माइक्रोलीटर होते हैं। अगर इनकी तादाद शरीर में डेढ़ लाख से कम हो जाती है जो माना जाता है कि बॉडी में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो गई है। प्लेटलेट्स ऐसी कोशिकाएं होती हैं जो खून को बहने से रोकती है। शरीर में किसी चोट या अन्य कारण से रक्तस्त्राव होने पर प्लेटलेट्स के द्वारा ही खून को रोकने का कार्य किया जाता है। पर कई बीमारियां जैसे डेंगू और चिकनगुनिया के वजह से प्लेटलेट्स की संख्या शरीर में कम होने लगती है। अगर इनकी कम होती संख्या को समय से कंट्रोल नहीं किया गया तो ये मौत तक का कारण बन सकती है। ऐसे में गिलोय का सेवन प्लेटलेट्स को बढ़ाने में मददगार है-

गिलोय खाने के फायदे: गिलोय का जूस प्‍लेटलेट्स को बढ़ाने का सर्वोत्तम उपाय है। इससे आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है। गिलोय का जूस खून में व्हाइट ब्लड सेल्स बढ़ाने में काफी मददगार है। डेंगू के दौरान नियमित रूप से इसके सेवन से ब्लड प्लेटलेट्स बढ़ते हैं। इसके अलावा, इसे ज्वरनाशक भी कहा जाता है, यानि कि किसी भी तरह के बुखार को दूर करने में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, गिलोय का सेवन पर्याप्त मात्रा में ही करना चाहिए क्योंकि ज्यादा इस्तेमाल करने पर मुंह में छाले होने का खतरा रहता है।

कैसे करें इस्तेमाल: गिलोय का इस्तेमाल कई तरीकों से किया जाता है। हालांकि, इसके पत्तों के बजाय डंठल का इस्तेमाल करना चाहिए। गिलोय का जूस प्लेटलेट्स बढ़ाने में सर्वाधिक असरदार है। आप चाहें तो 2 चुटकी गिलोय के एक्सट्रैक्ट को एक चम्मच शहद के साथ दिन में दो बार ले सकते हैं। इसके अलावा, गिलोय की डंठल को रात भर पानी में भिगोकर सुबह उसका छना हुआ पानी पी लें। वहीं, गिलोय का काढ़ा भी फायदेमंद होता है। इसे बनाने के लिए डंठल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर एक से डेढ गिलास पानी में उबालें। जब पानी आधा हो जाए तो गैस बंद कर दें और काढ़ा को ठंडा करके पीयें।

ये हैं अन्य उपाय: ब्लड में प्लेटलेट काउंट को बढ़ाने के लिए एलोवेरा का भी इस्तेमाल किया जाता है। आप इसके पल्प या जूस का सेवन कर सकते हैं। अपनी डाइट में ग्रीन टी, आंवला, लहसुन और दही के साथ ही अनार, पपीता, चुकंदर और सेब को शामिल करने से भी फायदा होगा। वहीं, कद्दू के आधे गिलास जूस में एक से दो चम्मच शहद मिलाकर दिन में दो बार पीने से भी प्लेटलेट्स की मात्रा में बढ़ोतरी होती है।

यह भी पढे –

डायबिटीज के मरीजों के लिए काली मिर्च होती है लाभकारी, और भी हैं कई लाभ