उप्र में सुरक्षित नहीं बच्चियां, हाथरस-बलरामपुर के बाद दरिंदंगी का एक और मामला

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के प्रति अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। हाथरस-बलरामपुर और अब भदोही जिले से एक दलित किशोरी के साथ दरिंदंगी का मामला सामने आया है। हाथरस की घटना को लेकर देशभर में उबाल है, लेकिन अपराधियों में पुलिस और प्रशासन का बिल्कुल भी डर नहीं है। इस बार भदोही जिले के गोपीगंज इलाके में एक 14 साल की दलित किशोरी की सिर कुचलकर नृशंस हत्या की गई हैं। हत्या से पहले रेप की आशंका भी जताई हैं।

जानकारी के मुताबिक किशोरी गुरुवार को दोपहर अचेतावस्था में घर से कुछ दूर स्थित बाजरे के खेत में मिली। अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया गया। परिजनों ने बेटी की रेप के बाद हत्या करने की बात कही हैं। उसके सिर को बुरी तरह कुचला गया था, जबकि शरीर से कपड़े गायब थे। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। क्राइम ब्रांच व पुलिस की टीम मामले की जांच तफ्तीश में जुट गई हैं।

बताया जा रहा है कि किशोरी दिन में करीब एक बजे शौच के लिए खेत की तरफ गई थी। घंटे भर तक जब वह घर नहीं लौटी तो परिजनों को चिंता हुई। आसपास तलाश करने पर वह कुछ दूर स्थित बाजरे के खेत में लहूलुहान अचेतावस्था में मिली। जिसके बाद उसे निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि उसकी निर्मम हत्या की गई है। हत्या का कारण दुराचार प्रतीत हो रहा है।

यह भी पढ़े: राहुल और प्रियंका गांधी समेत 203 कांग्रेसियों के खिलाफ FIR दर्ज, लगाई गई कई धाराएं
यह भी पढ़े: अमेरिका से भारत पहुंचा ‘एयर इंडिया वन’ विमान, मिसाइल हमला भी होगा बेअसर

Loading...