दिल्ली: केजरीवाल सरकार का अच्छा काम, कूड़े से बिजली बनाने का संयत्र लगवाया

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने जनहित में एक अच्छी पहल की है। राज्य सरकार ने दिल्ली के गाजीपुर सब्जी मंडी में कचरे से बिजली बनाने के संयंत्र लगाए है। मुर्गा मंडी में स्थित इस ‘वेस्ट टू पॉवर प्लांट’ में रोजाना लगभग 15 टन कूड़े की खपत होगी और उससे लगभग 1500 यूनिट बिजली का प्रतिदिन उत्पादन होगा। इसका उपयोग मंडी की जरूरतों के लिए किया जाएगा। इस तरह के प्रयोग से कचरे से मुक्ति मिलेगी और बिजली भी मिलेगी।

सरकार का कहना है कि लोगों की जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए यह प्रयोग बेहद आवश्यक हैं। बाद में इस प्लांट की क्षमता बढ़ाने और दिल्ली में कई अन्य जगहों पर भी कुछ नए प्लांट्स लगाने की योजना तैयार की जा रही हैं। वेस्ट टू पॉवर प्लांट लगाने के समय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘कचरा किसी भी समाज की बड़ी समस्या होती है, लेकिन इसे भी उपयोगी बनाकर इसका दोहन करना चाहिए।

उन्होंने कहा अगर कचरे का निस्तारण नहीं किया जाएगा तो कचरे का पहाड़ खड़ा हो जाएगा जिसका निदान करना संभव नहीं होगा। लेकिन यदि इसी प्रकार के वेस्ट टू पॉवर प्लांट्स लगाकर बिजली उत्पादन किया जाए तो कचरे का उत्पादन समस्या की बजाय वरदान बन जाएगा। सीएम ने कहा बिजली की जरुरत हमेशा रहने वाली है, ऐसे में दिल्ली को कचरे की समस्या से मुक्ति दिलाने के लिए इस तरह के प्लांट्स लगाने के लिए दिल्ली सरकार पहल करेगी।

यह भी पढ़े: पीएम को वर्चुअल संवाद में सुनाई अपनी पीड़ा, 3 घंटे बाद ही मिला दो लाख का चेक
यह भी पढ़े: फेसबुक इंडिया की पॉलिसी हेड अंखी दास का इस्तीफा, वजह भी आई सामने