अपनी तीनों सेनाओं को मजबूत कर रही भारत सरकार, घातक हथियार खरीदने के लिए दिए 500 करोड़

चीन के साथ पूर्वी लद्दाख के गलवां घाटी में चल रहे तनाव को देखते हुए भारत सरकार ने अपनी सेनाओं को मजबूत करना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में सरकार ने तीनों सेनाओं को घातक हथियार और गोला-बारूद खरीदने के लिए 500 करोड़ रुपये के आपात फंड को मंजूरी दे दी है। गौरतलब है कि चीन लगातार सीमा पर भारत पर दबाब डालने का प्रयास कर रहा है। इसलिए वह सीमा पर अपने सैनिकों और हथियारों की संख्या में इजाफा कर रहा है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि सरकार ने तीनों सेनाओं के उप प्रमुखों को खतरनाक अस्त्र शस्त्रों की तात्कालिक और आपात खरीद के लिए 500 करोड़ रुपये फंड दिया है। बता दे पिछले दिनों पूर्वी लद्दाख में चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद सरकार ने यह फैसला किया है।

याद करा दे इससे पहले भी भारत सरकार ने उड़ी हमले और पाकिस्तान के खिलाफ बालाकोट हवाई हमलों के बाद सेनाओं को इसी तरह से वित्तीय शक्तियां प्रदान की थी। बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद भारतीय वायु सेना ने इस्रायल की स्पाइक एंटी टैंक गाइडेड मिसाइलें और गोला बारूद की खरीद की थी।

यह भी पढ़े: भारत के खिलाफ लगातार जहर उगल रहा नेपाल, FM पर बजाये जा रहे भारत विरोधी गाने
यह भी पढ़े: Google Pay करता है भारतीय भुगतान प्रणाली का उल्लंघन ? RBI ने अदालत को दिया यह जवाब