वजन से लेकर मधुमेह को नियंत्रित करता है अमरूद

अमरूद एक ऐसा फल है, जो हर मौसम में आसानी से मिल जाता है। अमरूद का स्वाद जहां एक ओर लाजवाब होता है, वहीं दूसरी ओर यह गुणों से युक्त होता है। अगर अमरूद को डाइट में शामिल किया जाता है तो इससे सेहत को कई तरह के लाभ प्राप्त होते हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

मधुमेह पीड़ित लोगों के लिए अमरूद किसी रामबाण से कम नहीं है। मधुमेह ग्रस्त लोगांे को बिना छिलके वाले अमरूद का सेवन करें क्योंकि इसमें मौजूद एंटी-हायपरलिपिडेमिक टाइप-2 डायबिटीज के खतरे को कम करने में मदद करता हैं।
अमरूद की एक खासियत यह होती है कि यह बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में मदद करता है। दरअसल, इसमें फाइबर मौजूद होता है जिससे वजन कंट्रोल में रहता है। इतना ही नहीं, इस फल में बाकी फलों की तुलना में कैलोरी की मात्रा भी कम होती हैं।

अमरूद का सेवन व्यक्ति को कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचाता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपन और विटामिन-सी उन मुक्त कणों से लड़ते हैं जो कैंसर का कारण बनते हैं। इस फल के सेवन से ब्रेस्ट कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर से बचाव रहता है।

अमरूद में मौजूद फाइबर न सिर्फ वजन नियंत्रित करने में मदद करता है, बल्कि पाचनतंत्र को भी बेहतर तरह से काम करने के लिए प्रेरित करता है। अमरूद में मौजूद रोगाणुरोधी गुण आंत के रोगाणुओं से भी लड़ने और दस्त को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा इससे पाचन भी दुरुस्त रहता हैं।