Breaking News
Home / क्राइम / PAK की मदद से मिली आतंकी हाफ़िज़ सईद को UN से मिली बड़ी राहत

PAK की मदद से मिली आतंकी हाफ़िज़ सईद को UN से मिली बड़ी राहत

मुंबई हमले 26/11 के मास्टरमाइंड और वैश्विक आतंकी हाफ़िज़ सईद का साथ देते हुए पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से गुहार लगाई है। इस गुहार में पाकिस्तान के तरफ से हाफ़िज़ सईद को उसके बैंक खातों का इस्तेमाल करने की मंजूरी दी जाए इस बात की पाकिस्तान ने इजाजत मांगी है। इस अपील का समर्थन करते हुए संयुक्त राष्ट्र ने आतंकी हाफ़िज़ सईद को उसके बैंक खातों के इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है।

पाकिस्तान ने 15 अगस्त को संयुक्त राष्ट्र का दरवाजा खटखटाया था और यूएनएससी में पत्र दायर कर के आतंकी हाफ़िज़ सईद, हाजी मुहम्मद अशरफ और जफर इकबाल जैसे नामी आतंकियों को उनके निजी खर्चों के लिए उनके बैंक खातों के प्रयोग करने की मंजूरी दी जाये इस बात की अनुमति मांगी थी।

Loading...

अमेरिकी ट्रेजरी विभाग ने 26/11 के मुंबई हमले के मास्टरमाइंड को विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी घोषित किया है और इसके साथ ही हाफ़िज़ सईद की जानकारी देने वाले को लगभग 70 करोड़ रुपये इनाम देने की भी घोषणा की है।

संयुक्त राष्ट्र की कमिटी ने अपने बयान में कहा कि आतंकी हाफ़िज़ सईद के निजी खर्चों के लिए पाकिस्तान के अनुरोध पर कोई आपत्ति ना होने के कारण संयुक्त राष्ट्र के चेयर ने अपील को स्वीकार कर लिया है और इसकी मंजूरी दे दी है।

पाकिस्तान के द्वारा यूएनएससी प्रस्ताव का पालन करते हुए सरकार ने हाफिज़ सईद के बैंक खातों को फ्रीज़ कर दिया था। पाकिस्तान ने हाफिज़ सईद को 1,50,000 पाकिस्तानी रुपये इस्तेमाल करने की संयुक्त राष्ट्र से इजाजत मांगी है।

संयुक्त राष्ट्र को लिखे हुए पत्र में पाकिस्तान ने जिक्र किया है कि हाफिज़ सईद के घर में चार सदस्य है और आतंकी हाफ़िज़ सईद उन चार सदस्यों का अकेला गुजारा करता है इसलिए उसे बैंक का उपयोग करने कि अनुमति दी जाये।

अब बात यह आती है कि पाकिस्तान ने आतंकी हाफ़िज़ सईद का समर्थन तब किया है जब वह सभी देशों के सामने खुद ढिंढोरा पीट-पीट कर बोल रहा है कि पाकिस्तान किसी भी रूप में आतंकियों का समर्थन नहीं करता और आतंकवाद के खिलाफ ठोस कदम उठा रहा है। पाकिस्तान के आतंकवाद-रोधी विभाग ने आतंकी हाफिज़ सईद को गिरफ्तार भी कर लिया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *