मध्यप्रदेश में बढ़ेगी स्वास्थ्य सुविधाएं- डॉ़ प्रभुराम चौधरी

मध्यप्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ़ प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के लिए राज्य सरकार द्वारा निरंतर काम किया जा रहा है, ताकि सरकारी अस्पताल में आने वाले मरीजों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं मिल सकें।

डॉ चौधरी ने आज यहाँ आष्टा अस्पताल में निर्मित ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा निरंतर काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की कोशिश है कि आवश्यकतानुसार प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाएं जाएं। सरकारी अस्पतालों कि सेवाओं को बेहतर किया जा रहा है, ताकि सरकारी अस्पताल में आने वाले सभी मरीजों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं मिले।

उन्होंने कहा कि प्रशासन ने ग्रामीण क्षेत्रों में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (सीएचओ) नियुक्त किए हैं और उन्हें जिला अस्पताल से जोड़ा गया है। इससे ग्रामीण अंचलों में रहने वाले लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के साथ ही विशेषज्ञ चिकित्सक से चिकित्सकीय परामर्श मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अनेक नगरों एवं ग्रामीण स्वास्थ केंद्रों को टेलीमेडिसिन के माध्यम से जिला, राज्य तथा एम्स के साथ ही दिल्ली, कोलकाता, बॉम्बे जैसे महानगरों के विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं उपलब्ध कराने की समुचित व्यवस्था की है।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार किया जा रहा है। नगरीय क्षेत्रों में लगभग 25000 आबादी में संजीवनी क्लीनिक खोले जा रहे हैं। भोपाल में कुछ संजीवनी क्लीनिक शुरू भी हो गए हैं। उन्होंने कहा की ग्रामीण क्षेत्रों में भी संजीवनी क्लीनिक खोलने का काम किया जा रहा है। प्रदेश में 263 स्वास्थ संस्थाएं शुरू करने का काम स्वीकृत किया गया है, इसमें कुछ संस्थाओं के काम शुरू भी हो गए हैं।

उन्होंने कहा कि आष्टा अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट के चालू हो जाने से शिशु वार्ड तथा प्रसूति वार्ड के 40 बिस्तरों को ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित हो जाएगी। यह ऑक्सीजन प्लांट यूनिसेफ के सहयोग से लगाया गया है और इसकी क्षमता 150 एलएमपी है।

यह भी पढ़े: नवाब मलिक अस्पताल में इलाज करा सकते हैं:अदालत