युवाओं में दिल का रोग हो सकता है मोटापा से !

मोटापा खुद में एक बहुत ही घातक बिमारी है। इससे न जाने कितनी ही ज्यादा बिमारियां जन्म लेती हैं। बता दें कि सामान्य से ज्यादा बॉडी मास इंडेक्स की वजह से अधेड़ और इससे अधिक की आयु वालें में दिल के रोगों का बहुत खतरा रहता है। लेकिन एक नए शोध में पता चला है कि उच्च बीएमआई से 17 साल की आयु में भी दिल संबंधी रोगों का खतरा ज्यादा हो सकता है।

ब्रिटेन के ब्रिस्टल विश्वविद्यालय के रिसर्चर्स ने कहा है कि बीएमआई के बढ़ने के कारण युवा अवस्था में ही दिल संबंधी रोगों के चपेट में आने की बहुत संभावना है। ब्रिस्टल विश्वविद्यालय के शोध सहायक ने कहा, “हमारे परिणाम बताते हैं कि उच्च बीएमआई का प्रभाव हमारे बाएं वेंट्रिकल से पंप किए जाने वाले खून के आयतन पर पड़ता है।

यह वह भाग है, जिसमें अधिक बीएमआई का कार्डियक हाइपरट्रोफी व उच्च रक्त चाप पर गहरा असर देखा जा सकता है।” रिसर्चर्स ने यह पाया है कि मोटापा से युवा वयस्कों में दिल की बीमारी हो सकती है। इसके विपरीत उच्च बीएमआई से इस समूह के दिल की धड़कन पर कोई खास असर नहीं पड़ता है।

यह भी पढ़ें-

इसे पढ़िए अगर आप हैं हार्ट अटैक के रोगी !