पाकिस्तान में हिंदू लड़की के साथ बलात्कार, किशोरी की हालत गंभीर

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदुओं और उनकी लड़कियों के खिलाफ अत्याचार लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस बार सिंध प्रांत से 15 वर्षीय किशोरी के साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया हैं। बताया जा रहा है कि हथियारों से लैस अपराधियों ने जबरन बच्ची का अपहरण कर उसके साथ बलात्कार किया। जिसके बाद उसे सड़क पर फेंक दिया। बच्ची की हालत गंभीर बनी हुई हैं। जिसकी जानकारी पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता राहत आस्टिन ने दी हैं।

आस्टिन ने बताया कि इससे पहले पाकिस्तान के सिंध प्रांत के थारपारकर जिले में भी एक ऐसी ही घटना सामने आई थी। जिसमें 17 वर्षीय हिंदू लड़की के साथ गैंगरेप हुआ था। बाद में अपराधियों के धमकाने और डराने से पीड़िता ने आत्महत्या कर ली थी। उसने कुंए में कूदकर अपनी जान दी थी।

लड़की के पिता ने बताया कि पिछले साल जुलाई महीने में उनकी बेटी के साथ दुष्कर्म किया गया था। आरोपियों ने बेटी के साथ दुष्कर्म का वीडियो बना लिया था। प्रभावशाली घरों से ताल्लुक रखने वाले सभी आरोपी जमानत पर बाहर थे और बेटी को ब्लैकमेल कर रहे थे। बता दे पाकिस्तान में इमरान सरकार ने दुष्कर्म के आरोपियों को सरेआम फांसी देने का सुझाव दिया था। साथ ही यौन दुर्व्यवहार करने वालों का एक नेशनल रजिस्टर बनाने का आह्वान किया था।

यह भी पढ़े: हाथरस गैंगरेप के नाम पर UP में दंगों की रची गई साजिश, पुलिस ने किया दावा
यह भी पढ़े: बारां दुष्कर्म कांड को लेकर भाजपा का जयपुर में प्रदर्शन, हिरासत में सतीश पूनिया