कैंसर के जख्मों पर जबरदस्त मरहम बनेगा शहद

खांसी-जुकाम ही नहीं, शहद कैंसर तक के इलाज में मदद कर सकता है। आईआईटी खड़गपुर के एक दल ने कई साल के शोध के बाद शहद में छिपा ऐसा फार्मूला खोज निकाला है जो मुंह के कैंसर के जख्मों को भर सकता है।

संस्थान के केमिकल इंजीनियरों, बायोटेक्नोलॉजिस्ट और डॉक्टरों ने नैनो टेक्नोलॉजी के जरिये शहद से एक खास तरह का पैच तैयार किया है। शोधकर्ताओं का दावा है कि मुंह के कैंसर की सर्जरी के बाद यह पैच लगाने से न सिर्फ जख्म जल्द भरेंगे, बल्कि कैंसर दोबारा फैलने का खतरा भी कम होगा।

शोधकर्ताओं में शामिल लोगों का कहना है कि मुंह का कैंसर होने पर कई मरीजों को सर्जरी की जरूरत पड़ती है। सर्जरी के जरिये प्रभावित हिस्से को हटा दिया जाता है। लेकिन इसके बाद भी जख्मों में कई बार कैंसर कोशिकाएं छूट जाती हैं। ऐसे में दोबारा कैंसर की आशंका बनी रहती है। फिलहाल मुंह के कैंसर के लिए ऐसा कोई अन्य पैच उपलब्ध नहीं है, जो जख्मों को भरे और कैंसर कोशिकाओं को भी खत्म करे व दोबारा बनने से रोके।

शोधकर्ता  कहती हैं, शहद की एंटी-कैंसर, एंटी-बैक्टीरियल खूबियां पहले से सभी जानते हैं। उनकी टीम ने एक खास तरह की नैनो तकनीक के जरिये शहद की इन खूबियों का एक विशेष फार्मूला तैयार किया है। आईआईटी खड़गपुर की टीम का यह शोध अमेरिकन केमिकल सोसायटी के जर्नल में प्रकाशित हो चुका है। अपने पैच के लिए उन्होंने पेटेंट भी फाइल किया है।

यह भी पढ़ें:

औषधीय गुणों से भरपूर होता है काला नमक, जानिए इसके बड़े फायदे

जानिए, गुलाब जल के औषधीय गुणों के बारे में