शिशु की डिलीवरी के कितने समय बाद होता है माँ का शरीर स्वस्थ

यह एक जानकारी की दृष्टि से एक जरुरी विषय है इसलिए प्रत्येक स्त्री और पुरुष को इसकी सही जानकारी होनी चाहिए यह एक जानकारी की दृष्टि से एक जरुरी विषय है इसलिए प्रत्येक स्त्री और पुरुष को इसकी सही जानकारी होनी चाहिए कि माँ बनने के कितने दिनों बाद महिला शारीरिक रूप से स्वस्थ होती हैं। यदि आप हाल ही में माता-पिता बने हैं तो यह आपके लिए और भी जरुरी है। इसके लिए आपको किसी जानकर से बात करनी होगी या डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं।

अनेक समस्याएं होती हैं-

माँ बनने के बाद महिलाओं को लगभग एक महीने तक रक्तस्त्राव होता रहता है इसके अलावा डिलीवरी के दौरान उनके शरीर से काफी रक्त बह जाता है जिससे उनका शरीर काफी कमजोर हो जाता है। बच्चे की डिलीवरी के दौरान माँ को असहनीय कष्ट होता है जो की सामान्य से इतना अधिक होता है की सामान्य आदमी उसकी कल्पना मात्र से ही सिहर जाए। बच्चे की डिलीवरी के दौरान उनसे जुड़े अंगों में भी काफी आघात पहुँचता है जिससे इन अंगों की स्थिति असामान्य हो जाती है और इन अंगों को एक से डेढ़ महीने तक बहुत पीड़ा झेलनी पड़ती है। कुछ एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अगर प्रेग्नेंसी के दौरान माँ का खान-पान ठीक नहीं था और उनके शरीर में किसी भी प्रकार की कमजोरी या खून की कमी थी तो डिलीवरी के दौरान और उसके बाद महिला को अधिक पीड़ा हो सकती है।

कब होती है स्थिति सामान्य-

माँ बनने के बाद महिला को रिकवरी में लगभग 6 महीनों का समय लगता है लेकिन कभी-कभी शारीरिक स्थिति के हिसाब से यह समय ज्यादा भी हो सकता है। माँ बनने के बाद महिला के शरीर में कई प्रकार के हार्मोनल बदलाव भी होते हैं, इससे कई बार उन्हें अन्य शारीरिक समस्या भी हो सकती हैं। गर्भाशय की सफाई में लगभग एक से दो महीने तक का समय लग सकता है इस दौरान अच्छे खानपान और आराम की आवश्यकता होती है। समय के साथ ही महिलाएं शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से स्वस्थ हो जाएँगी।