पानी की शुद्धता की जांच कैसे करें? आइए जानते हैं

यह तो हम सभी जानते हैं कि पानी हमारी मूलभूत आवश्यकताओं में से एक है। पानी का इस्तेमाल न सिर्फ पीने के लिए किया जाता है। बल्कि इसकी मदद से आप और भी बहुत से काम करते हैं। बेहतर स्वास्थ्य के लिए आवश्यक माने जाने वाले पानी यदि दूषित हो तो वह आपको लाभ पहुंचाने के स्थान पर नुकसान ही पहुंचाता है। तो चलिए जानते हैं कैसे करें दूषित पानी की पहचान-

पानी की अशुद्धता का सूंघ कर पता लगाया जा सकता है। जमीन से निकलने वाले पानी में सल्फर होता है जिसकी कम मात्रा शरीर के लिए हानिकारक नहीं होती। हालांकि अधिक सल्फर युक्त पानी पीने से आंतों की बीमारी, डिहाइड्रेशन आदि हो सकती हैं। इसलिए अधिक सल्फर युक्त पानी का सेवन नहीं करना चाहिए।

पेट में दर्द, उल्टी होना, दस्त लगने जैसे संकेत भी बताते हैं कि आप शुद्ध पानी नहीं पी रहे हैं। ऐसे में अपने पानी की जांच जरुर करवाएं और सही उपचार लें

अगर आपके पानी से क्लोरीन की गंध आ रही है तो उसे पीना हानिकारक हो सकता है।

पानी पर रंगीन बूंदे पानी पर जमा तेल की परत के कारण होती है। तेल पानी में घुलता नहीं हैं और पानी से हल्का होने के कारण पानी की सतह पर बूंदों की एक परत बना लेता है। ऐसा पानी दूषित होता है। इस पानी को पीने से बचें और शुद्ध पानी ही पिएं।

ये भी पढ़ें-

अपनाये ये उपाय, लगातार आ रहे छींको से मिलेगी राहत