Breaking News
Home / रिलेशनशिप / इस तरह पेश आएं ससुराल में बनेंगे मधुर-मजबूत संबंध

इस तरह पेश आएं ससुराल में बनेंगे मधुर-मजबूत संबंध

शादी के बाद हर विवाहित महिला को अपने ससुराल वालों से ही सबसे ज्यादा शिकायतें होती हैं। उसे लगता है कि ससुराल वालों के लिए कितना भी कुछ कर लें, लेकिन ससुराल के लोग कभी खुश नहीं होते। ठीक इसी तरह स्वसुर और सास का भी सोचना है। उन्हें लगता है कि बहू को बेटी की तरह प्यार देने के बावजूद उसका दिल नहीं जीत पाते। जब भी देखो वह अपने मायके के ही गुणगान गाती है, जैसे हम उसे हमेशा मानसिक रूप से प्रताड़ित करते हैं। असल बात ये है कि दोनों पक्ष अपने-अपने हितों की बात को ही सोचते हैं, जिससे धीरे-धीरे रिश्ते में दूरी आने लगती है। आप चाहें तो इस दूरी को पाटा जा सकता है। जानना चाहती हैं कैसे? इस लेखको आगे पढ़ें।
-इस बात को समझें कि ससुराल का माहौल, खान-पान आपके मायके से अलग हो सकता है। यह कोई नई या अचरज की बात नहीं है। ऐसे में आप कुछ उनसे सीखें और कुछ उनसे सिखाएं।
-अपने मायके और ससुराल की किसी भी तरह की तुलना न करें।
-ससुराल में आपकी क्या भूमिका है, उसे समझें।
-नए घर के माहौल के हिसाब से स्‍वयं को ढालने का प्रयास करें। मतलब यह नहीं है कि खुद को पूरी तरह बदला जाए। हां, कुछ-कुछ परिवार वालों को अपने जैसा बनाएं।
-अपने से बड़ों की तारीफ, सम्मान करें। बात-बात पर अपने मायके में होने वाली घटनाओं का जिक्र न करें। इससे ईष्र्या का भाव पैदा होता है।
-सबसे जरूरी बात आप यह समझना है कि जो इंसान आपके लिए सबसे महत्त्‍वपूर्ण है वह उनके माता-पिता हैं। उन्‍हीं के कारण आज वो आपका है।
-आप सास-स्वसुर का सम्मान करेंगी, उन्हें प्यार करेंगी तो यकीनन वह भी आपको बेटी की तरह प्यार देंगे, फिक्र करेंगे।

loading...
Loading...
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *