दूध में मिलावट की पहचान करना है बेहद आसान, जाने तरीका

यह तो हम सभी जानते हैं कि दूध सेहत के लिए बेहद लाभकारी है। इससे आपको कई तरह के पोषक तत्व प्राप्त होते हैं। लेकिन आज के दौर में कई लोग सालों से मिलावटी दूध का सेवन कर रहे हैं और उन्हें इसका पता भी नहीं चलता। जिससे उन्हें दूध का कोई लाभ प्राप्त नहीं होता, बल्कि तबियत ही खराब होती है। तो चलिए जानते हैं कि असली दूध की पहचान का क्या है तरीका-

दूध की पहचान करने के लिए आपको लकड़ी या पत्थर ही जरूरत पड़ेगी। इसके लिए किसी लकड़ी या पत्थर पर दूध की एक या दो बूंद गिराइए। अगर दूध बहकर नीचे की तरफ गिरे और सफेद निशान बन जाए तो दूध पूरी तरह से शुद्ध है।

कई लोग दूध में डिटर्जेंट भी मिलाते हैं। दूध में डिटर्जेंट की मिलावट को पहचानने के लिए, दूध की कुछ मात्रा को एक कांच की शीशी में लेकर जोर से हिलाइए। अगर दूध में झाग निकलने लगे तो इस दूध में डिटरर्जेंट मिला हुआ है।

दूध को दोनों हाथों में लेकर रगड़कर देखें। अगर दूध असली है, तो सामान्य तौर पर चिकनाहट महसूस नहीं होगी। लेकिन अगर दूध नकली है, तो इसे रगड़ने पर बिल्कुल वैसी ही चिकनाहट महसूस होगी, जैसी कि डिटर्जेंट को रगड़ने पर होती है।

दूध का रंग भी उसके असली व नकली होने की कहानी बयां करता है। अगर दूध असली होगा तो उबालने या देर तक बाहर रखने पर उसका रंग नहीं बदलेगा, जबकि नकली दूध पीला पड़ने लगता है।