अगर पटना ठीक हो गया तो बिहार ठीक हो जाएगा : नीतीश कुमार

पटना (एजेंसी/वार्ता): बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी को लेकर अधिकारियों को पटना पर विशेष नजर रखने का निर्देश देते हुए आज कहा कि यदि पटना ठीक हो गया तो बिहार ठीक हो जाएगा। कुमार ने शनिवार को यहां सम्राट अशोक कन्वेंशन केन्द्र स्थित ज्ञान भवन में नशामुक्ति दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार बिहार में शराबबंदी को सख्ती से लागू करा रही है।

सभी पुलिसवालों ने शराबबंदी को लेकर शपथ ली है। पुलिस के लोग अलर्ट रहेंगे तो गड़बड़ी नहीं होगी। पूरे तौर पर शराबबंदी का पालन कराना जरूरी है। उन्होंने पटना के जिलाधिकारी और वरीय पुलिस अधीक्षक को पटना पर विशेष नजर रखने का निर्देश देते हुए कहा कि अगर पटना ठीक हो गया तो बिहार ठीक हो जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी लागू करने के कारण कुछ लोग उनके खिलाफ हैं।

शराब कितनी बुरी चीज है, इसको सबको समझना होगा। उन्होंने महिलाओं, अनुसूचित जाति-जनजाति, पिछड़ा-अतिपिछड़ा, अल्पसंख्यक समेत सभी तबकों के लिये विशेष प्रयास किया जा रहा है। उनके उत्थान के लिए कई कार्य किए गए हैं। वह वर्ष 2005 से लोगों की भलाई के लिये लगातार काम कर रहे हैं। बहुत लोगों ने शराब पीना छोड़ दिया है। कुछ लोग गड़बड़ करने वाले होते हैं, उन पर कार्रवाई कीजिये। शराब के असली धंधेबाजों को पकड़िये, उन पर कड़ी कार्रवाई कीजिये।

कुमार ने महिलाओं से अपील करते हुए कहा, “आप ही की मांग पर शराबबंदी लागू की गयी है इसलिये आपलोग इसको लेकर सजग रहें। शराबबंदी के प्रति लोगों को प्रेरित करते रहें। सतत् जीवोकोपार्जन योजना के संबंध में भी लोगों को जानकारी दें। सभी विभाग अपने विभाग के कार्यों के अलावा लोगों को बतायें कि शराब कितनी बुरी चीज है। समाज सुधार अभियान निरंतर जारी रखना है। राज्य भी आगे बढ़ेगा और सबकी तरक्की होगी।”

-एजेंसी/वार्ता

यह भी पढ़े: योगी की लोकप्रियता से डरे नीतीश ने महिला कवि पर दिखायी तानाशाही: सुशील मोदी