अगर आप भी है depression के शिकार, तो ऐसे करें अपना बचाव

वर्तमान की व्यस्त जीवनशैली के कारण हमारे पास इतना समय भी नहीं है की हम खुद का अच्छे से ख्याल रख पाएं। हमारी अपनी जॉब और घर के सभी चीज का प्रेशर हमारे डिप्रेशन का कारण बनती है। जिसके कारण कई लोग तो इससे किसी भी समय बाहर ही नहीं निकल पाते है। हमारे बीच कई लोग ऐसे होते है जो कि डिप्रेशन के कारण अच्छे से नींद भी नहीं ले पाते है। जिसका सीधा असर उनकी सेहत पर पड़ता है।

अगर आपकी भी तनाव के कारण नींद पूरी नहीं हो पाती है तो यह खबर आपके लिए ही है। भारतीय मूल के एक वैज्ञानिक के नेतृत्व में शोधकर्ताओं ने पाया कि गन्ने और अन्य प्राकृतिक उत्पादों में पाए जाने वाला एक सक्रिय तत्व पूरी तरह तनाव को खत्म कर नींद बढ़ा देता है।

रिसर्च में यह पाया गया कि वर्तमान में उपलब्ध नींद की गोलियां तनाव पर कोई खास असर नहीं करतीं और उनके बहुत दुष्प्रभाव भी होते हैं।शोधकर्ताओं की टीम ने पाया कि ऑक्टाकोसोनॉल तनाव को कम कर देता है और नींद को वापस सामान्य स्तर पर ले आता है यह यौगिक पदार्थ विभिन्न दैनिक खाद्य पदार्थो, जैसे कि गन्ना, चावल की भूसी, गेहूं के बीज का तेल, मधुमक्खी मोम आदि में बहुत ही प्रचुर मात्रा में मौजूद है।

शोधकर्ताओं का कहना है की ऑक्टाकोसैनल एक यौगिक पदार्थ है, जो गन्ने के रस में पाया जाता है। यह तनाव के कारण अनिंद्रा के उपचार के लिए बहुत अधिक उपयोगी हो सकता है।

Loading...