अगर आप भी है खर्राटों से परेशान तो जरूर पढ़ें यह खबर

बहुत सारे लोगों की सोते समय खर्राटे लेने की बुरी आदत होती है और इनकी इस आदत से घरवाले भी बहुत अधिक परेशान हो जाते है। अगर आपको भी अपने खर्राटों से पूरी तरह शर्मिंदगी उठानी पड़ती है तो आप कतई परेशान ना होए क्योंकि आज हम आपको कुछ ऐसे बेहतरीन उपाय बताने जा रहे है जिनको अपनाकर आप इस गंभीर समस्या से बहुत जल्द ही छूटकारा पा सकते है। और ये उपाय आपको सोने पहले करने होंगे। आइए जानते है उन बेहतरीन उपायों के बारे में ………

(1) सोने से पहले न लें अल्कोहल :-

अगर आप भी इस गंभीर समस्या से बहुत परेशान है तो सोने से पहले अल्कोहल का सेवन कतई ना करें। क्योंकि कई दर्द निवारक दवाओं की तरह ही अल्कोहल भी शरीर की मांसपेशियों के खिंचाव को बहुत कम करती है और उन्हें पूरी तरह बढ़ाती है। कई लोगों को इसकी आदत हो जाती है और अगर वे इसका आवश्यकता से अधिक सेवन कर लेते है तो उनके गले की मांसपेशियां पूरी तरह फैल जाती है जिससे खर्राटे आते हैं। इसीलिए सोने से पहले हो सकें तो अल्कोहल का सेवन कतई ना करें और अगर करें तो बहुत कम मात्रा में।

(2) धूम्रपान से बचें :-

अक्सर बहुत सारे लोग धूम्रपान के आदी होते है। लेकिन धूम्रपान का सीधा प्रभाव हमारे फेफड़ों पर बहुत अधिक पड़ता है। अगर कभी-कभी धूम्रपान करने वाले व्यक्ति के शरीर में सोते समय ऑक्सीजन की बहुत कमी हो जाती है। तो इस स्थिति‌ को स्लीप ऐप्नीआ यानी निद्रा अश्वसन के नाम से पूरी तरह जाना जाता है। यह स्थिति होने पर कई बार ऑक्सीजन प्राप्त करने के लिए भी शरीर पूरी तरह खर्राटे लेता है। इसलिए सोने से पहले धूम्रपान से अवश्य ही बचना चाहिए।

(3) तकिये पर भी दें ध्यान :-

खरार्टे आने की एक महत्वपूर्ण वजह तकिया भी होता है। अगर आप अपनी तकिये की खोल को समय-समय पर पूरी तरह नहीं बदलते या फिर उसे साफ नहीं करते तो इससे भी आपको बहुत खर्राटे आते है। कई बार सिर से रूसी या बाल तकिये पर गिर जाते है जो कई सूक्ष्म जीवों के लिए घर तैयार कर देते है। और जब हम सांस लेते हैं तो ये एलर्जी हमारे शरीर की श्वास लेने की क्षमता को पूरी तरह खत्म कर देती है, जिससे निद्रा अश्वसन या स्लीप ऐपनीआ की गंभीर समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसी वजह से अत्यधिक खर्राटे आते है।