दौड़ना शुरू कर रहे हैं तो इन बातों का रखें विशेष ध्यान

इस बात से तो हम सभी वाकिफ हैं कि दौड़ना सेहत के लिए काफी अच्छा होता है। लेकिन ऐसे भी बहुत से लोग होते हैं, जिन्हें दौड़ते समय चोट लग जाती है। इसलिए यह बेहद आवश्यक है कि दौड़ते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखा जाए। तो चलिए जानते हैं इन बातों के बारे में-

रनिंग की शुरूआत हमेशा स्लो होनी चाहिए। कभी भी एकदम से तेज न दौड़ें। इससे चोट लगने की आश्ंाका काफी हद तक बढ जाती है। हमेशा अपनी स्पीड धीरे-धीरे बढ़ाएं।

हर सप्ताह आप अपनी दौड़ने की दूरी को 10 प्रतिशत से अधिक न बढ़ाएं।

ऊबड़-खाबड़ या ऊंची-नीची जमीन पर भूल से भी दौड़ें। बेहतर होगा कि रनिंग के लिए आप समतल जमीन का चयन करंे।

यदि पैरों में या घुटनों में दर्द हो तो दौड़ने से बचना चाहिए। दर्द का मतलब है कि आपके पैर में कोई परेशानी है और इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

हर 500 मील के बाद अपने जूते बदल लें। ऐसा माना जाता है कि इतनी दूरी तय करने के बाद जूतों में दबाव सहने की क्षमता खत्म हो जाती है।