मिस्कैरिज से बचना है तो इन फूड्स से करें तौबा-तौबा

प्रेग्नेंसी का दौर किसी भी महिला के लिए बहुत खास होता है। इस दौरान वह न सिर्फ एक अनोखे अहसास से गुजरती है बल्कि हर दम अपने अंदर अपने बच्चे को फील भी करती है। लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान अगर पूरी तरह अहतियात न बरती जाए तो मिस्कैरिज भी हो सकता है। इसलिए इस दौरान कुछ खास फूड्स खाने से बचें। जानिए, कौन से हैं वे फूड्स।

-अपनी डाइट से कच्चा पपीता निकाल बाहर करें। असल में कच्चे पपीते में लेटेक्स होता है जो प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में मिस्कैरिज का रिस्क खड़ा कर सकता है। इसमें पपैन और पेप्सिन भी शामिल हैं जो भ्रूण का विकास नहीं होने देते। डॉक्टर्स पूरी प्रेग्नेंसी के दौरान कच्चा पपीता न खाने की सलाह देते हैं।

-बदलते मौसम में अकसर महिलाएं तुलसी पत्ते की चाय पीती हैं। इससे भी दूर रहना ही सही है। प्रेग्नेंसी के दौरान तुलसी के पत्ते अवॉइड करने चाहिए। अगर आपको इस टाइम पर कोल्ड और कफ लगा है, तब भी तुलसी के पत्ते न खाएं, क्योंकि इसमें मर्कयूरी का लेवल बहुत ज्यादा होता है और यह फीटस के लिए ठीक नहीं है।

-एलोवेरा भी प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में सही नहीं है। एलोवेरा जूस न सिर्फ प्रेग्नेंसी, बल्कि अगर आप बच्चे को ब्रेस्टफीड करवाते हैं, तब भी नहीं पीना चाहिए। इससे ब्लड में शुगर लेवल कम हो जाता है, और मां को उल्टी, दस्त लग सकते हैं। ऐसे में शरीर से सारे मिनरल्स निकल जाते हैं और यह होने वाले बच्चे के लिए खतरा बन सकता है।

नही जानते होंगे आप सुबह जल्दी जागने के ये फायदे