अगर आपका शरीर मोटापे से है ग्रस्त,तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

इंसान के शरीर में कई सारे रोग ऐसे होते हैं जो पूर्ण रूप से हमारे शरीर के मोटापे को बढ़ा सकते हैं। आपको बता दे की मोटापा होने से उच्च रक्तचाप, हृदय संबंधी मुद्दों और मधुमेह जैसी कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती है। दर्दनाक मस्तिष्क की चोट एक रोगी के पुनर्वास के बाद वर्षों में मोटापा आपके जोखिम कारकों को बढ़ाता है।

आपको बता दे की मोटापे से अधिकतर लोग जोड़ों के दर्द का शिकार हो जाते हैं। जोड़ों में उठते बैठते समय अत्यधिक असहनीय दर्द झेलना पड़ता है। साथ ही अधिक दबाव के कारण जोड़ों पर अत्यधिक भार पड़ने और कार्टिलेज की मात्रा के कम होने से आर्थराइटिस की गंभीर समस्‍या भी होने लगती है। एक किलो वजन बढ़ने का मतलब है कि जोड़ों पर लगभग चार से छह गुना दबाव बढ़ जाता है। लंबे समय तक लोगों के बीच किसी के वजन और स्वास्थ्य संबंधी स्थितियों को नियंत्रित करने के संबंध में एक सक्रिय होने की आवश्यकता है।

मोटापे से हृदय रोग का खतरा भी अत्यधिक बढ़ जाता है। क्योंकि वजन बढ़ने से आपका हृदय शरीर के बाकी हिस्सों में पूर्ण रूप से ब्लड सप्लाई नहीं कर पाता है। जिससे दिल का दौरा होने की बहुत ही प्रबल संभावना होती है। इसके अलावा मोटापे से हृदय के आसपास की धमनियों में अत्यधिक चर्बी जमा हो जाती है और शरीर में वसा की मात्रा अधिक होने पर सोडियम इकट्ठा हो जाता है। इससे रक्त का दबाव बढ़ जाता है।