किसानों की समस्याओं के निमित्त आईएमएस लॉ कॉलेज के छात्र अंकित ने किया बैठक का आयोजन

पश्चिमी चंपारण के अंतर्गत चंदरपुर रतवल पंचायत के भठहिया गांव में आई एम एस विधि महाविद्यालय के छात्र अंकित कुमार द्वारा किसानों की समस्याओं के निमित्त एक बैठक का आयोजन किया गया। इस क्षेत्र के नजदीक में ही बगहा, हरिनगर, लौरिया चीनी मिल होने के कारण किसानों द्वारा गन्ने की खेती पर ही विशेष जोर दिया जाता है।

उक्त बैठक में किसानों से बातचीत के दौरान मुख्यतः बिजली की समस्या सामने उभर कर आई, किसानों द्वारा बताया गया कि कई माह पूर्व आवेदन दिए जाने के बाद भी अभी तक कृषि कार्य हेतु बिजली आपूर्ति नहीं की गई है जिससे सिंचाई में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस बैठक में किसान राजन यादव ने बताया कि प्रखण्ड स्तर से अनुदान पर मिलने वाले बीजों तथा खाद की आपूर्ति भी बगहा 1 प्रखण्ड के किसानों को नहीं की जाती है।

साथ ही किसान सलाहकारों द्वारा भी किसी प्रकार की जानकारी किसानों को नहीं दी जाती। क्षेत्र में टपक सिंचाई तकनीक का उपयोग करने वाले किसान विजय मिश्रा द्वारा जानकारी दी गई कि बिजली के साथ बड़ी समस्या यह है कि 3 माह पूर्व के गन्ने का हिसाब अभी तक नहीं हुआ है जबकि रशीद में भुगतान हेतु 14 दिनों के समय की बात कही गयी थी। इसके अतिरिक्त किसानों को गन्ना मूल्य में कमी, गन्ने की माप में कमी तथा कम गुणवत्ता वाले गन्ने की स्वीकार्यता हेतु बहुत कम अवधि मिलने की परेशानी हो रही है।

किसान मनोज मिश्रा ने बताया कि क्षेत्र के किसानों को लोन लेने में बड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है, समय पर लोन नहीं मिलने के कारण तथा लोन का कुछ हिस्सा बिचौलियों तक रह जाने के कारण कृषि कार्य मे परेशानी आती है और अत्यधिक मेहनत करने के बाद उत्पादन करने पर भी कर्ज बराबर बने रहता है। उक्त सभी समस्याओं पर इन किसानों से अंकित कुमार ने बात की एवं इन मामलों को प्रकाश में लाकर इस पर पहल कराने की बात कही। अंकित कुमार ने तत्काल इन किसानों द्वारा बिहार सरकार के सुविधा एप्लीकेशन पर कृषि हेतु बिजली के लिए आवेदन कराया गया, एवं उन्हें कृषि से जुड़े कुछ तकनीकों तथा नए तरीकों के बारे में जानकारी दी।

किसानों की ये समस्याएं निश्चित रूप से कृषि कार्य को प्रभावित कर रही हैं एवं इस से तंग आकर कई बड़े किसान कृषि कार्य छोड़ रहे हैं, उक्त समस्याओं को ध्यान में रख कर अंकित कुमार ने आश्वासन दिया कि अगर शुरुआती स्तर पर पहल नहीं की जाती है तो इस पर बड़े स्तर पर पहल कर समस्याओं का निपटान कराया जाएगा। मौके पर संजीव दुबे, ब्रजेश राव, प्रद्युम्न शुक्ला, झमन यादव, कोदोई यादव, ननकू यादव, लालबिहारी यादव इत्यादि किसान उपस्थित रहे।

Loading...