पीएम मोदी ने लिखे पत्र में आम जनता से माँगा आशीर्वाद और कहा – अब हमें अपने पैरों पर खड़ा होना ही होगा

प्रधानमंत्री मोदी ने लिखे पत्र में लोगों को आत्मनिर्भर बनने की बात कही है जनता से कहा कि अब हमे आयात कम करनी होगी । जिससे यह देश सबल हो सके। मोदी ने कहा है कि अभी आज समय की मांग है कि हमें निर्भरता की ओर कदम बढ़ाना ही होगा।

👉1 साल पहले इस देश के इतिहास में एक नया स्वर्णिम अध्याय जुड़ा।

👉अब समय की मांग है कि भारत आत्मनिर्भरता की ओर कदम बढ़ाएं।

👉2019 में दिया गया आपका आशीर्वाद देश के बड़े सपनों के लिए।

✍आइए जानते हैं प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पत्र में कौन-कौन सी बातों का जिक्र किया है।

1. आज से 1 साल पहले इस देश में एक नया स्वर्णिम अध्याय जुड़ा। देश में पहली बार पूर्ण बहुमत की सरकार दूसरे कार्यकाल के रूप में सत्ता पर आई । और यह आप लोगों की आशीर्वादओं का ही परिणाम था। इसलिए यह अवसर है कि मैं आपको नमन करूं कि आपने देश के विकास के लिए इतना बड़ा कदम उठाया।

2. 2014 में भारत की जनता ने पहली बार पूर्ण बहुमत की सरकार चुनी थी । भारत की जनता ने नीति और रिती को बदलने के लिए एक स्वर्णिम प्रयास किया था। आपने पिछले 5 वर्षों में भ्रष्टाचार के दलदल से भारत को उबरते हुए देखा है।

3. सबका साथ, सबका विकास, और सबका विश्वास । इसी मंत्र को लेकर 2019 में आपने जिस आशा और उम्मीद के साथ भाजपा को फिर से देश की कमान सौंपी । इसी का असर है कि पिछले 1 सालों में लिए गए फैसले आज भारत विश्व में अग्रणी बना है।

4. पिछले 1 साल में आपके सहयोग से लिए गए फैसले हमारे स्मरण में बनी रहनी चाहिए । चाहे अनुच्छेद 370 हो या तीन तलाक या नागरिकता संशोधन कानून या राम मंदिर निर्माण । यह सभी बड़े ही ऐतिहासिक फैसले रहे और यह आपके आशीर्वाद के बिना कभी संभव नहीं होता।

5. एक के बाद एक लिए गये फैसलों ने विश्व में भारत को अग्रणी देशों की सूची में लाकर खड़ा किया है एक तरफ जहां पूर्णा संकट में विश्व का डर था कि अगर भारत में कोरोना महामारी फैलेगी तो भारत की स्थिति क्या होगी । परंतु आज भारत ने जिस तत्परता और लगन के साथ एकजुट होकर इसका सामना किया है । आज इससे लोगों की सोच में परिवर्तन आया है और विश्व हमारी ओर देख रहा है।

Loading...