गर्मियों में भूलकर भी न होने दे पानी की कमी, नहीं तो हर्जाना भरेगी आपकी किडनी

भीषण गर्मी के मौसम में इंफेक्शन होने का खतरा बहुत अधिक रहता है। क्योंकि इस समय पसीने के कारण शरीर पूर्ण्तः भीग जाता है। इसी से संक्रमण फैलता है। ऐसे में कई गंभीर बीमारियां हो सकती है। इसलिए गर्मी में शरीर की सफाई बहुत आवश्यक है। शरीर को दुर्गंध से बचाएं। इन दिनो में लगभग 100 प्रतिशत कॉटन के कपड़े पहनें ताकि तेज धूप शरीर में जलन न हो। शरीर के हर हिस्से को साफ रखें।

गर्म पानी से कभी न नहाएं क्योंकि वजाइना इन्फेक्शन गर्म और गीले स्थानों पर जल्दी और तेज़ी से वृद्धि करता है। टाइट-फिटिंग वाले पैन्ट्स, जींस, लेगिंग्स न पहनें। इस तरह के कपड़े पहनने से शरीर में हवा नहीं लगती, जिससे ज्य़ादा पसीना आने की वजह से गुप्तांगों पर सूजन व खुजली स्टार्ट हो जाती है।

इसलिए गर्मी के मौसम में अत्यधिक सावधानी की जरुरत है। गर्मी में पसीने की चिपचिपाहट के कारण खुजली, घमौरी, दाग सहित कई गंभीर बीमारियां हो जाती है। ऐसे में जरा सी लापरवाही त्वचा के लिए बहुत घातक हो सकती है। इसके अलावा शरीर में पानी की कमी कमी होने और पसीना अधिक आने से किडनी में पथरी होने की भी प्रबल संभावना होती है।

औषधीय गुणों से भरपूर होता है काला नमक, जानिए इसके बड़े फायदे

जानिए, गुलाब जल के औषधीय गुणों के बारे में