कोरोना महामारी को देखते हुए वाहनों के दस्तावेजों की रिन्यू करने की छूट 31 दिसंबर तक बढ़ी

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के बीच सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने 24 अगस्त को सभी राज्यों के पुलिस महानिदेशकों, परिवहन विभाग के प्रमुख सचिवों और परिवहन आयुक्तों को परामर्श जारी कर दिया है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच केन्द्र सरकार ने एक बड़ी राहत दी है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने लोगों को बड़ी राहत देते हुए एक बार फिर फरवरी मे खत्म हो गए वैधता वाले ड्राइविंग लाइसेंस, लर्निंग लाइसेंस, गाड़ियों के परमिट और रजिस्ट्रेशन की वैधता 31 दिसंबर तक बढ़ा दी है। जिसके बाद अब ये सभी डॉक्यूमेंट्स अब इस साल के 31 दिसंबर तक वैध माने जायेंगे।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय जारी परामर्श मे कहा गया है कि महामारी देखते हुए वाहनों के दस्तावेजों की रिन्यू करने की छूट 31 दिसंबर 2020 तक बढ़ा दी गई है। इसके साथ ही कहा गया है कि वाहनों के दस्तावेजों को नवीनीकरण के अभाव में पुलिस, यातायात पुलिस और परिवहन विभाग के अधिकारी ऐसे वाहन चालकों को तंग नहीं करेंगे। इसको लेकर किसी का चालान भी ना काटें। खबर के मुताबिक ड्राइविंग लाइसेंस, पंजीकरण, परमिट, फिटनेस प्रमाणपत्र के रिन्यू करवाने की अवधि को 31 दिसंबर 2020 तक बढ़ा दिया गया है। जबकि गाड़ी का इन्शोरेंस नहीं होने पर 4 हजार रुपये तक जुर्माना और तीन महीने तक की जेल का प्रावधान है। इसको लेकर सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा 24 अगस्त को ही सभी राज्यों के पुलिस महानिदेशकों, परिवहन विभाग के प्रमुख सचिवों और परिवहन आयुक्तों को परामर्श जारी कर दिया है।