लिवर में चर्बी बढ़ना हृदय रोगों के लिए है नुकसानदायक

  • फैटी लिवर (लिवर में चर्बी का बढ़ऩा) को बहुत साडी बीमारियों का जनक माना जाता है। फ्रांस के शोधकर्ताओं ने इसके एक और दुष्प्रभाव का पता लगाया है। फैटी लिवर के कारण हार्ट डिजीज का खतरा ज्यादा रहता है। इससे मृृत्यु दर में भी बहुत वृृद्धि होती है।
  • मोटापा, टाइप-2 डायबिटीज और आर्टीरियल हाइपरटेंशन के पीड़ि़तों में नॉन अल्कोहाल फैटी लिवर डिजीज (एनएएफएलडी) सामान्य होती जा रही है। ताजा अध्ययन में एनएएफएलडी को अथरोस्क्लेरोसिस (धमनियों की भित्ती पर फैट, कोलेस्ट्रॉल का जमाव) के लिए एक स्वतंत्र कारक माना गया है। इसके चलते कार्डियोवस्कुलर डिजीज या हार्ट डिजीज से होने वाली मौतों में अत्यधिक वृृद्धि होती है। लिवर में चर्बी बढ़ऩे से गले की प्रमुख धमनियों की मोटाई भी बढ़़ जाती है। इसके चलते रक्त प्रवाह में दिक्कतें आती हैं। ये परिस्थितियां हार्ट डिजीज के आने के पूर्व संकेत होते हैं।